Breaking News

6/breakingnews/random

विदेश जाने से पहले जान लीजिए पासपोर्ट से जुड़ी खास बातें, जानें कितने तरह के होते हैं पासपोर्ट

No comments
सफर में जाने से पहले उससे जुड़ी हुई बातों के बारे में जान लेना चाहिए। जैसे, विदेश जाने से पहले आपको उस देश की थोड़ी जानकारी हासिल कर लेनी चाहिए। इससे आपको वहां घूमने-फिरने में बड़ा मजा आएगा। उसी तरह विदेश जाने के लिए आपको वीजा और पासपोर्ट की जरूरत होती है। आज हम आपको पासपोर्ट से जुड़ी बातों के बारे में जानकारी दे रहे हैं। एक पर्यटक और एक नागरिक होने के नाते आपको ये जरूरी जानकारी होनी ही चाहिए।
क्या है पासपोर्ट 
पासपोर्ट एक ऐसा दस्तावेज है जो विदेश यात्रा के लिए अनिवार्य है। इसे सरकार जारी करती है। इस दस्तावेज से पता चलता है कि आप किस देश के नागरिक है। साथ ही आपसे जुड़ी कई जानकारियां इसमें लिखी होती है।

पासपोर्ट में दो कैटेगरी इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड (ECR) और इमिग्रेशन चेक नॉट रिक्वायर्ड (ECNR) होती हैं। हर पासपोर्ट बनवाने वाले व्यक्ति को इनके बारे में जानकारी होना चाहिए। आज हम इस बारे में जानकारी दे रहे हैं।

दो तरह की कैटेगरी 

क्या होता है ECR पासपोर्ट
यदि आप 10वीं पास नहीं हैं तो आपका पासपोर्ट ECR कैटेगरी में आएगा। इस कैटेगरी में आपका पासपोर्ट आता है तो आपको इंडिया से बाहर जाने पर इमिग्रेशन ऑफिसर से क्लियरेंस लेना होगा। ECR कैटेगरी में पासपोर्ट पेज पर स्टाम्प लगा होता है। इसमें क्लियरली लिखा होता है कि इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड।

किन कंट्रीज के लिए लेना होगा क्लियरेंस

सउदी अरब, कुवैत, ओमान, लीबिया, सीरिया, यमन, मलेशिया, इराक, जोर्डन, ब्रुनेई, इंडोनेशिया जैसे कंट्रीज में जाने के लिए आपको इमिग्रेशन ऑफिसर से क्लियरेंस लेना होगा। हालांकि यदि आप जॉब के पर्पस से इन कंट्रीज में नहीं जा रहे तो फिर आपको इमिग्रेशन क्लियरेंस लेने की जरूरत नहीं है।

क्या होता है ECNR पासपोर्ट

यदि आप 10वीं पास हैं तो आप ECNR कैटेगरी में आएंगे। इस कैटेगरी में आने वाले लोगों को इंडिया से बाहर जाते वक्त इमिग्रेशन क्लियरेंस लेने की जरूरत नहीं होती।

कैसे चेक करें, आपका पासपोर्ट किस कैटेगरी का है?
यदि आप 10वीं पास हैं तो आपका पासपोर्ट आटोमेटिक ECNR कैटेगरी में ही बनेगा, लेकिन यदि आप पासपोर्ट बनवाते समय यह डिकलेयर करते हैं कि आप 10वीं पास नहीं हैं तो आपका पासपोर्ट ECR कैटेगरी में आएगा। इस कैटेगरी में आने पर आपको पासपोर्ट में स्टाम्प लगा मिलेगा। इसमें इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड लिखा होगा।

नीला पासपोर्ट 
नीले रंग का पासपोर्ट इंडिया के आम नागरिकों के लिए बनाया जाता है। नीला रंग भारतीयों को रिप्रजेंट करता है और इसे ऑफिशियल और डिप्लोमैट्स से अलग रखने के लिए सरकार ने यह अंतर पैदा किया है। इससे कस्टम अधिकारियों या विदेश में पासपोर्ट चेक करने वालों को भी आइडेंटिफिकेशन में आसानी होती है।

सफेद पासपोर्ट 
सफेद रंग का पासपोर्ट गवर्नमेंट ऑफिशियल को रिप्रजेंट करता है। वह शख्स जो सरकारी कामकाज से विदेश यात्रा जाता है उस यह पासपोर्ट जारी किया जाता है।यह ऑफिशियल की आइडेंटिटी के लिए होता है। कस्टम चेकिंग के वक्त उन्हें वैसे ही डील किया जाता है।

मरून पासपोर्ट 
इंडियन डिप्लोमैट्स और सीनियर गवर्नमेंट ऑफिशियल्स(आईपीएस, आईएएस रैंक के लोग) को मरून रंग का पासपोर्ट जारी किया जाता है। हाई क्वालिटी पासपोर्ट के लिए अलग से एप्लिकेशन दी जाती है। इसमें उन्हें विदेशों में एम्बेसी से लेकर यात्रा के दौरान तक कई सुविधाएं दी जाती हैं। साथ ही, देशों में जाने के लिए वीजा की जरूरत नहीं पड़ती। इसके अलावा इमिग्रेशन भी सामान्य लोगों की तुलना में काफी जल्दी और आसानी से हो जाता है। 

No comments

Post a Comment

Internet

5/cate3/Internet

Contact Form

Name

Email *

Message *