Sunday, 10 June 2018

Webmaster Search Traffic Kya Hai? इससे Bloggers को क्या फायदा होता है

Webmaster Search Traffic Kya Hai? इससे Bloggers को क्या फायदा होता है

Webmaster Search Traffic Kya Hai? इससे Bloggers को क्या फायदा होता है
Sunday, 10 June 2018
दोस्तों, आज हम बात करने वाले है Webmaster Search Traffic Kya Hai? और हम सभी लोग अपने Website का Performance enhance करने में किस तरह से benefit ले सकते है. अगर आप एक Blogger या Website Manager है. तो आपके लिए यह एक best article हो सकता है.
Webmaster Search Traffic Kya Hai?

जब भी हम Google Search Console में Login करते है. तो हमें वहा पर एक Option देखने को मिलता है. "Search traffic" के नाम से,

इस Option के माध्यम से हम Webmaster Verify Website के Traffic, CTR, Impression, Position, Keywords, targeting जैसे बहुत से Important activity के बारे में जानकारी हासिल कर सकते है और उन्हें अपने Blog/ Website पर Implement करके Search Ranking Improve कर सकते है.

हमें Webmaster Search Traffic में 6 तरह के Option देखेने को मिलते है,

  1. Search Analytics
  2. Link To Your Site
  3. Internal Links
  4. Manual Action
  5. International targeting
  6. Mobile Usability

Webmaster Search Traffic के इन सभी अलग-अलग Option का अपना एक Important role है जो हमारे लिए बहुत जरुरी है. चलिए इनके बारे में थोडा विस्तार से समझते है.आप देख रहे है - http://www.hinditipszone.com

Search Analytics:
Website Traffic Flow और Keywords के बार में जानकारी के लिए यह सबसे बेहतर Option है. यहाँ से हमें Complete Website Traffic के बारे में जानकारी मिलता है. जैसे की,

किस Keyword पर Click होकर हमारे Website पर traffic आ रहा है, किसी एक keyword पर कितना Impression मिला, की देश से Traffic आ रहा है, कौन से page पर Traffic आ रहा है. इस तरह एक और भी बहुत से Important Traffic Factor के बारे में जानकारी मिलता है Search Analytics से.

जब हम Search Analytics Option पर Click करते है तो हमें यहाँ पर सबसे उपर चार आप्शन देखने को मिलता है.


  • Click - इससे पता चलता है की हमारे Website पर कितने Clicks आये.
  • Impressions- इससे पता चलता है की हमारा Website कितने बार search में देखा गया है.
  • CTR - यानि Click through rate इससे पता चलता है की Website पर click Rate क्या है.
  • Position -  इससे हमें Website के Average position के बारे में जानकारी मिलता है.



इन चार Option के नीचे हमें कुछ और Option मिलते है. जिनका Use हम अपने Website के Traffic monitoring के लिए Use कर सकते है.

इन सभी Option का Use करके हम पता कर सकते है की हमारे Website पर किस Keyword  से traffic आ रहा है, कौन से Page पर आ रहा है, किस देश से आ रहा है, किस Device से आ रहा है. इनके बारे में Webmaster search traffic में बताया जाता है.आप देख रहे है - http://www.hinditipszone.com

Links To Your Site:
Webmaster Search Traffic के इस feature से हमें पता चलता है की हमारा Website कौन-कौन से Website से Link है. यहाँ पर हमें हमारे Website का Complete backlink report मिल जायेगा, जहा पर भी, जिस Url से हमारा Website Link होगा.


Internal Links:
जैसा की इसके नाम से ही हमें पता चल जाता है की हमें इस Option से Inernal Links के बारे में जानकारी मिलता है. जो ही हमने अपने Website में Internal links बनाये है.

Manual Action:
अगर हम कोई Spam कर Unwanted activity करते है. जैसे की Spam Links, Thin Content, Cloaking Etc. तो हमें यहाँ पर उसके बारे में जानकारी मिलता है. अगर हमारे Webmaster Manual Action में कोई Activity मिलता है तो वह हमारे Website के लिए सही नहीं होता है.

International targeting:
इस Feature का Use करके हम Google Search Engine को बताते है की हम किस देश के लिए Content लिख रहे है और हम किस देश का traffic अपने Website पर चाहते है.


Webmaster Search Traffic Benefits:
हमें तो सीख लिए की Webmaster Search Traffic क्या है? इसके features क्या-क्या है? अब ये जानने की जरुरत है. की हम इसका Use किस तरह से Website SEO improve करने में Website Search traffic और Clicks बढाने के लिए कर सकते है.


Webmaster search traffic से हम अपने Website को अच्छे से monitor कर सकते है की हमारे website पर लोग किस तरह के query search करके आते है और वह कहा से आते है. इस हिसाब से हम Future planning कर सकते है और एक Strategy के तहत post लिख सकते है और Keyword improvement पर ध्यान दे सकते है.

Webmaster Search Traffic Kya Hai? इससे Bloggers को क्या फायदा होता है
4/ 5
Oleh

Newsletter via email

If you like articles on this blog, please subscribe for free via email.