Breaking News

6/breakingnews/random

चीनी की जगह गुड़ का इस्‍तेमाल करना सही होता है क्‍या?

No comments
मीठा के तो हर कोई शौकीन होता है, सभी लोग बहुत ही चाव के साथ मीठा खाना पसंद करते हैं। लेकिन ज्‍यादा मीठा खाना से डायबिटिज होने का सबसे ज्‍यादा खतरा रहता है। लेकिन यदि आप भी मीठा खाने के शौकीन है और आप चाह कर भी मीठा नहीं छोड़ पा रहे हैं तो आप चीनी की जगह गुड़ का सेवन करना शुरु कर दें। जो आपके खाने में मिठास घोलने के साथ ही आपके ल‍िए हेल्‍दी भी है। गुड़ चीनी का अशोधित, कच्चा प्रकार है, आदिकाल से मीठे के तौर पर गुड़ का ही प्रयोग किया जाता था।
इसमें गन्‍ने के रस में मौजूद खनिज, पोषक तत्व और विटामिन बरकरार रहते हैं और प्राचीन भारत की चिकित्सा व्यवस्था - आयुर्वेद में सूखी खांसी का उपचार, पाचन बेहतर करने और बहुत सी अन्य बीमारियों के इलाज में उसका इस्तेमाल किया जाता है।

गुड़ में विशेषता होती है की यह जल्दी पच जाता है, खाना खाने के बाद गुड़ खाना अच्छा माना जाता है । गुड़ हमारा खून बढ़ाता है तथा भूख भी खुलकर लगती है। गुड़ जितना पुराना हो उतना गुणकारी होता है। आइए जानते है गुड़ खाने के फायदों के बारे में।

जोड़ों के दर्द के ल‍िए
बहुत से लोगों को घुटनों में दर्द व जोड़ों में दर्द की शिकायत रहती है। एैसे में यदि आप इस परेशानी से बचना चाहते हो तो आप गुड़ को खाएं। जल्द आपको इस समस्या से आसानी से छुटकारा मिल जाएगा। गुड़ में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसलिए बच्चो के विकास में सहायक है, यह बच्चो की हड्डियों को मजबूत बनाता है तथा दांतो के लिए भी ये अच्छा विकल्प है ।

दिल के ल‍िए अच्‍छा
गुड़ में पाया जाने वाला पोटैशियम हमे हृदय सम्बन्धी बीमारियाँ नहीं होने देता, गुड़ एनर्जी से भरपूर होता है इसलिए मजदूर लोग या अधिक शारीरिक श्रम करने वाले लोगो के लिए ये बहुत लाभदायी है, इसके सेवन से तुरंत शरीर में एनर्जी आ जाती है ।

मासिक धर्म में नियमित
अगर कोई भी मूत्र संबंधी समस्‍या हो तो गुड़ खाने से मूत्र की रुकावट दूर हो जाती है। गुड़ खाने से मासिक धर्म नियमित रुप से आता है।

गैस बनने की समस्या दूर करे
अगर आपको पेट में गैस बनने की समस्या होती है तो आप प्रतिदिन एक गिलास पानी या दूध के साथ गुड़ का सेवन करें। ऐसा करने से पेट में ठंडक पैदा होती है और इसका सेवन करने से शरीर में गैस भी नहीं बनती।

बॉडी को करता है डिटॉक्‍स
गुड़ हमारे शरीर में एसिड को भी समाप्त करता है तथा यह हमारे शरीर के विषैले तत्व को बाहर निकालता है जिससे हमारी त्वचा सवस्थ बनी रहती है। इसके अलावा ये शरीर में रक्‍तविकार को खत्‍म करता है।

आयरन की कमी दूर करे
अगर आपके शरीर में आयरन की कमी है तो इसमें गुड़ आपकी काफी मदद कर सकता है। क्योंकि गुड़ में यह बहुत अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इसीलिए डॉक्टर भी इस रोग में गुड़ का सेवन करने की सलाह देते है।

मधुमेह नियंत्रित करे
मधुमेह के रोगी को मीठा खाना बिल्कुल मना होता है। लेकिन बहुत से ऐसे लोग है जिनसे बिना मीठा खाये रहा ही नहीं जाता ऐसे में अगर वह चीनी का सेवन करते है तो यह उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। लेकिन अगर वह चीनी की जगह गुड़ का सेवन करते है तो ऐसा करने से मधुमेह भी नियंत्रित रहता है और आपका शरीर भी स्वस्थ रहता है।

गुड़ की तासीर होती है गर्म
इसका सेवन करने से आपके शरीर को स्वास्थ लाभ भी मिलते हैं। लेकिन गुड़ का अधिक मात्रा में सेवन करना आपका पेट भी खराब हो सकता है। इससे आपके शरीर में दाने भी पैदा हो सकते हैं। आपको बता दें कि गुड़ की तासिर गर्म होती है। इसलिए इसका सेवन बहुत ज्यादा मात्रा में नहीं करना चाहिए।

ध्यान रखें
गुड़ कह कर बेचे जाने वाले कुछ उत्पादों में सुपर-फॉस्फेट नामक एक रसायन होता है, जो स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह होता है। सफेद, साफ-सुथरा दिखने वाला गुड़ सुपर-फॉस्फेट वाला गुड़ होता है, जिससे बचना चाहिए। बदसूरत सा, गहरे रंग का गुड़ आम तौर पर असली गुड़ होता है।

No comments

Post a Comment

Internet

5/cate3/Internet

Contact Form

Name

Email *

Message *