एंटीबायोटिक्‍स दवाईयों के बाद कैसी डाइट लेनी चाहिए?

एंटीबायोटिक्‍स दवाईयों के बाद कैसी डाइट लेनी चाहिए?

एंटीबायोटिक्स क्या हैं? एंटीबायोटिक्स सप्लीमेंट हैं जो बैक्टीरियल (जीवाणु) संक्रमण से बचाव करते हैं। वे संक्रमण को खत्म करने और इसे फैलने से रोकने का काम करते हैं। हैरानी की बात है यह है कि इनका साइडइफेक्ट्स भी देखा गया है,
ये लिवर को नुकसान पहुंचा सकते हैं और दस्त की वजह बन सकते हैं। यहां, हम इस आर्टिकल में,उन खाद्य पदार्थों के बारे में बताएंगे,
जिसे एंटीबायोटिक्स लेने के बाद खाना चाहिए।
1. दही 
2. लहसुन
3. बादाम 
4. उच्च फाइबर फूड्स 
5. सॉकरकट 
6. रेड वाइन 
7. कोको

1. दही 
दही प्रोबायोटिक खाद्य पदार्थों की सूची में सबसे ऊपर है और निश्चित रूप से एंटीबायोटिक्स लेने के बाद खाने के लिए सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक है। दूध को प्रोबायोटिक बैक्टीरिया का उपयोग करने वाले फर्मेंटेशन की प्रक्रिया के माध्यम से दही में बदल दिया जाता है। उनमें कई स्वस्थ जीवाणु प्रजातियां भी शामिल हैं, जैसे लैक्टोबैसिलि, जो आंत माइक्रोबायोटा को स्वस्थ स्थिति में लाने में मदद करती है। तो, एंटीबायोटिक दवा लेने के बाद दही खाना आंत के लिये अच्छा होता है।

2. लहसुन
 लहसुन एक और प्रीबायोटिक फूड है जिसे आप एंटीबायोटिक दवाओं के बाद खा सकते हैं। प्रीबायोटिक्स पचाने योग्य कार्बोस नहीं हैं,जो प्रोबायोटिक बैक्टीरिया को आपके पाचन तंत्र में बढ़ने में मदद करते हैं। प्रोबायोटिक के लिए प्रीबायोटिक खाद्य सोर्स के रूप में काम करता है। 4 से 8 ग्राम तक प्रीबायोटिक फूड की सलाह दी जाती है और यह पाचन क्रिया के समर्थन करने के लिए पर्याप्त है। तीन बड़े लहसुन के दाने लगभग 2 ग्राम प्रीबायोटिक्स देते हैं।

3. बादाम 
वैज्ञानिकों के एक समूह ने पाया कि बादाम की गिरी, फायदेमंद आंत बैक्टीरिया के स्तर में बढ़ोतरी करने का काम करता है। एक उल्लेखनीय अध्ययन में यह भी पाया गया कि बादाम सामान्य कोल्ड और फ्लू जैसे वायरल संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं। यहां तक कि आंत में बादाम पचने के बाद भी, शरीर में वायरस से लड़ने की क्षमता में वृद्धि होती है।

4. उच्च फाइबर फूड्स 
फाइबर शरीर द्वारा पचाने में सक्षम नहीं है, लेकिन इसे आपके आंत के बैक्टीरिया से पचाया जा सकता है, जो उनके विकास को प्रोत्साहित करने में मदद करता है। रेशेदार खाद्य पदार्थ एंटीबायोटिक दवाओं के बाद आंत के स्वस्थ बैक्टीरिया को बहाल करने में मदद कर सकते हैं। हाई फाइबर से युक्त खाद्य पदार्थ जैसे अनाज, ड्राई फ्रूट्स, मसूर, सेम, बीज, केला, बेरीज, मटर, और ब्रोकोली एंटीबायोटिक लेने के बाद खाया जा सकता है । ये खाद्य पदार्थ हानिकारक बैक्टीरिया को भी बढ़ने से रोकते हैं।

5. सॉकरकट
सॉकरकट एक अच्छी तरह से कटा हुआ गोभी है जिसे विभिन्न लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया द्वारा अपने ही जूस में फर्मेंटेड होता है। एक प्रसिद्ध अध्ययन के अनुसार, कच्चे सायरक्राट (पत्तागोभी) में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया की 13 से अधिक विभिन्न प्रजातियां हो सकती हैं। आंत के लिये फायदेमंद ये बैक्टीरिया पाचन में भी मदद करते हैं।

6. रेड वाइन 
रेड वाइन में एंटीऑक्सीडेंट पॉलीफेनॉल होते हैं जो मानव कोशिकाओं द्वारा पचाने में असमर्थ होते हैं, इन्हें केवल स्वस्थ आंत बैक्टीरिया द्वारा पचाया जा सकता है। एक अध्ययन में पाया गया कि कम से कम चार हफ्तों के लिए रेड वाइन पॉलीफेनॉल एक्सट्रैक्ट पीने से आंतों में स्वस्थ बिफिडोबैक्टेरिया की मात्रा, लोअर ब्लड प्रेशर और ब्लड कोलेस्ट्रॉल में काफी वृद्धि हो सकती है।

7. कोको 
कोको एक और फूड है जिसे एंटीबायोटिक्स लेने के बाद खाया जा सकता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पॉलीफेनॉल होते हैं जिनके पास आंत माइक्रोबायोटा पर फायदेमंद प्रीबायोटिक प्रभाव होते हैं। कई अध्ययनों से पता चला है कि कोको पॉलीफेनॉल भी आंत में लैक्टोबैसिलस और बिफिडोबैक्टेरिया जैसे स्वस्थ बैक्टीरिया को बढ़ाते हैं और क्लॉस्ट्रिडिया और अन्य जैसे कुछ अस्वास्थ्यकर बैक्टीरिया को कम करते हैं। एंटीबायोटिक दवा लेने के बाद कुछ खाद्य पदार्थों को खाने से बचना चाहिए जैसे एसिडिक फूड, अल्कोहल, पके हुए फल के साथ कैलशियम और आयरन से युक्त फल।

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो इसे अपने रिश्तेदारो और दोस्तों के साथ शेयर करें।

0/Post a Comment/Comments

Sponsor