Monday, 23 July 2018

ईटीएफ़ क्या हैं? | What is an ETF in Hindi?

ईटीएफ़ क्या हैं? | What is an ETF in Hindi?

ईटीएफ़ क्या हैं? | What is an ETF in Hindi?
Monday, 23 July 2018
What is an ETF in Hindi – ईटीएफ़ ( ETF – Exchange Traded Fund ) क्या हैं? ईटीएफ की संरचना कैसी होती हैं? ETF के क्या फायदें हैं? आदि की पूरी जानकारी के लिए यह पोस्ट जरूर पढ़े.
ईटीएफ़ क्या हैं? | What is an ETF
ईटीएफ ( ETF ) का फुल फॉर्म एक्सचेंज ट्रेडेड फंड ( Exchange Traded Fund ) होता हैं. ईटीएफ स्टॉक एक्सचेंजों पर कारोबार करने वाला एक निवेश फंड हैं. ‘ईटीएफ – एक्सचेंज ट्रेडेड फंड’ Index Fund होते हैं जिनका स्टॉक एक्सचेंज में शेयरों की तरह ख़रीद और बिक्री की जाती हैं. पूरी दुनिया में निवेशकों के लिए काफ़ी लोकप्रिय हैं. ईटीएफ में निवेश करने पर ‘सुविधा शुल्क’ बहुत ही कम देना पड़ता हैं जो इसे और भी लोकप्रिय बनाता हैं.

यह भी पढ़े: What is SIP in Hindi – SIP क्या हैं? | निवेश का बेहतर विकल्प

ईटीएफ की संरचना | Structure of ETF
ETF की संरचना इसके इंडेक्स पर ही आधारित होती हैं. हम इसे निफ्टी ( Nifty ) या सेंसेक्स इंडेक्स ( Sensex Index ) के उदाहरण द्वारा समझ सकते हैं.

निफ्टी का इंडेक्स, निफ्टी में लिस्टेड Top 50 Company पर आधारित होता हैं. इन्ही कम्पनी के लाभ-हानि के अनुसार ही निफ्टी इंडेक्स ऊपर या नीचे आता जाता हैं. जब आप निफ्टी ETF में इन्वेस्ट करेंगे तो आपका पैसा 50 हिस्सों में बाँटकर इन टॉप 50 कम्पनी में लगाया जाएगा और इंडेक्स ऊपर जाने पर आपको लाभ मिलेगा और नीचे जाने पर आपको हानि होगा. आप ने अगर नोटिस किया होगा तो देखा होगा कि निफ्टी का इंडेक्स अधिक्तर ऊपर ही जाता हैं.

ठीक इसे प्रकार सेंसेक्स इंडेक्स में इन्वेस्ट करने पर आपका पैसा BSE की टॉप 30 कम्पनी में लगा दी जायेगी.

इसमें अगल-अलग सेक्टर के टॉप कम्पनी को मिलाकर बनाया जाता हैं जैसेकि Bank ETF, Manufacturing ETF, Energy ETF, Gold ETF, Real Estate ETF आदि बहुत से Sector से सम्बंधित ईटीएफ बाजार में उपलब्ध हैं जिसमें आप निवेश कर सकते हैं. इन सेक्टर से सम्बंधित टॉप की कंपनियों में आपका पैसा निवेश किया जाता जिसके कारण ऐसे निवेश में जोखिम कम होता हैं.

ईटीएफ में निवेश करने के फायदे | Benefits of investing in ETFs
  1. ईटीएफ खरीदने और बिक्री करने में आसान होता हैं.
  2. स्टॉक एक्सचेंज इंडेक्स (सेंसेक्स या निफ्टी ) में शामिल शेयर अलग अलग उद्योगों से शामिल किये जाते हैं जिससे Index ETF में विविधता आ जाती हैं और निवेशक का रिस्क कम हो जाता हैं.
  3. ईटीएफ के माध्यक से Sensex के 30 शेयरों में और Nifty के 50 शेयरों में एक साथ निवेश कर सकते हैं.
  4. जिन लोगो को शेयर बाजार की जानकारी नही हैं वो अपना पैसा ETF में निवेश कर सकते हैं. इसमें निवेश करना कम रिस्क वाला और आसान होता हैं.
  5. ईटीएफ में आप कम पैसे से भी निवेश करना शुरू कर सकते हैं.
नोट – किसी निवेश पर उसके प्रॉफिट के अनुसार उसमें रिस्क भी होता हैं इसलिए निवेश के पहले किसी प्रोफेशनल की सलाह जरूर ले.
ईटीएफ़ क्या हैं? | What is an ETF in Hindi?
4/ 5
Oleh

Newsletter via email

If you like articles on this blog, please subscribe for free via email.