Monday, 2 July 2018

एक्‍सक्‍यूज मी जेंटलमेन! क्‍या आप भी बॉडी वैक्‍स करवाते है? तो ये खबर आपके लिए है

एक्‍सक्‍यूज मी जेंटलमेन! क्‍या आप भी बॉडी वैक्‍स करवाते है? तो ये खबर आपके लिए है

एक्‍सक्‍यूज मी जेंटलमेन! क्‍या आप भी बॉडी वैक्‍स करवाते है? तो ये खबर आपके लिए है
Monday, 2 July 2018
पहले पर्सनल हाईजीन और ग्रूमिंग को महिलाओं से जोड़कर देखा जाता था। लेकिन आज बदलते वक्‍त के समय पुरुष भी अपने पर्सनल हाइजीन को लेकर काफी अवेयर हुए है। बालों में स्‍पा से लेकर फेशियल और वैक्सिंग तक करवाने का ट्रेंड पुरुषों में बढ़ता जा रहा है। खासकर जो पुरुष ज्‍यादा आउटडोर एक्टिविटीज में बिजी रहते है वो अपने लुक को लेकर ज्‍यादा कॉन्शियस रहने लगे है।
 इसलिए वो अच्‍छा दिखने के ल‍िए बॉडी वैक्‍स और बॉडी शेविंग का सहारा लेने लगे हैं। लेकिन कभी कभी वैक्सिंग और शेविंग पुरुषों के ल‍िए परेशानी का सबब बन सकता है क्‍योंकि मर्दों के बाल महिलाओं की तुलना में कड़े और कठोर होते है। इसलिए उन्‍हें वैक्सिंग और शेविंग की जगह हेयर ट्रिमिंग को ज्‍यादा तवज्‍जो देनी चाहिए।

आइए जानते है कि किन कारणों की वजह से पुरुषों के ल‍िए ट्रिमिंग बेहतर ऑप्‍शन है।

दर्द से छुटकारा
वैक्सिंग में जो सबसे बड़ा डर होता है वो है वैक्‍स के दौरान बालों को उनके जड़ों से निकाला जाता है, जिसके लिए बहुत तेज प्रेशर लगाना पड़ता है। जो काफी दर्दभरा होता है। हालांकि पुरुषों के बाल महिलाओं के बालों की तुलना में कठोर होते है तो एक बार वैक्‍स करने से भी उनके बाल नहीं हटते है इसके ल‍िए भी दो से चार बार वैक्सिंग स्टिप्‍स लगाने पड़ते है। फिर कहीं जाकर बाल साफ होते है। वहीं शेविंग की वजह से भी शरीर के सभी बाल आसानी से नहीं जाते है क्‍योंकि उनके शरीर के बाल मोटे और कड़े होते हैं। ऐसे में उनके लिए शेव करना आसान नहीं होगा। जबकि ट्रिमिंग से आसानी से बाल निकल भी जाते है और दर्द भी नहीं होता है।

किसी तरह का रिस्‍क नहीं
ट्रिमिंग करवाने से शरीर को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचता। ऐसा इसलिए क्योंकि आप वैक्सिंग या शेविंग की तरह बालों की जड़ों से छेड़छाड़ नहीं कर रहे होते, जिससे उन्हें नुकसान नहीं पहुंचता। आपको शरीर पर रैशेज होने की चिंता भी नहीं करनी पड़ेगी, जो अक्सर वैक्सिंग के बाद पुरुषों के लिए परेशानी बन जाते हैं।

चोट लगने पर भी कर सकते है ट्रिमिंग
अगर आपके शरीर पर कोई चोट और जलने के वजह से कोई घाव हो गया हो तो आप वैक्सिंग या शेविंग नहीं कर सकते है, लेकिन ट्रिमिंग के जरिए आप बाल हटा सके है। ट्रिमिंग के दौरान बस ऊपरी बालों को काटा जाता है, इससे स्किन तक ब्लेड नहीं पहुंचती और वह सुरक्षित बची रहती है।

नहीं होता है कोई स्किन डैमेज
वैक्सिंग और शेविंग करने से स्किन की ऊपरी परत डैमेज होती है। कई बार इस वजह से स्किन इंफेक्‍शन होने की सम्‍भावना रहती है। जबकि इसके उलट ट्रिमिंग करने से कोई भी समस्‍या नहीं होती है। ट्रिमिंग से सिर्फ बालों को हटाया जाता है। ट्रिमिंग करना पुरुषों के लिए बेहतरीन ऑप्शन है।

चुभने वाले बालों से भी राहत
जिन लोगों को वैक्सिंग या शेविंग का एक्‍सपीरियंस है जो लगातार इस प्रोसेस से गुजरते हैं, उन्‍हें मालूम है कि जब दो या तीन बाद जब भी बाल आते हैं तो बाल मोटे और कड़क आते हैं। यह बाल चुभते भी काफी हैं, लेकिन अगर आप ट्रिमिंग करते हैं तो आपको ऐसी किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
एक्‍सक्‍यूज मी जेंटलमेन! क्‍या आप भी बॉडी वैक्‍स करवाते है? तो ये खबर आपके लिए है
4/ 5
Oleh

Newsletter via email

If you like articles on this blog, please subscribe for free via email.