Sunday, 30 September 2018

Amazon Customer Care Toll-Free Number & Help Center

Welcome, Here you will find all the contact details of Amazon.in customer care. Check Toll-Free Number, eMail ID and Address of Amazon Customer Support Team. If you use amazon then you should bookmark this website for future help. You can contact us 24×7 365 days via the following methods.
Name : Amazon.in Corporate Contact Details (Toll Free Helpline Number / Customer Care Number)

Location : Bengaluru, Karnataka

Category : eCommerce

Amazon Head Office Address : Amazon India, Brigade Gateway, 8th floor, 26/1, Dr. Rajkumar Road, Malleshwaram(W), Bangalore – 560055, Karnataka India

Amazon Office Phone Numbers : +91-80-33273000

TOLL FREE NUMBER(S): 

180030009009
1800-419-7355

ALL INDIA NUMBER(S): 
8041970000

Website:  https://www.amazon.in

Amazon Customer Care Phone Number, Email Id, Office Address


Location
Address
Phone Number and
Fax Number
Bangalore
Amazon Development Center India Pvt Ltd., 2nd Floor, Safina Towers, Opposite to J.P. Techno Park, No.3, Ali Asker Road, Bangalore – 560052
+91-80-41970000
Bangalore WTC
Amazon Development Center India Pvt Ltd., Brigade Gateway,8th, 9th & 10th Floor, 26/1, Dr. Rajkumar Road,
Malleshwaram(W), Bangalore-560055
+91-80-33273000
Hyderabad
Amazon Development Center India Pvt. Ltd., 2nd Floor-Block A ans Block B, Survey Number-109,110,111/2, Nanakramguda Village,
Serlingamplayy Mandal,
Hyderabad
Hyderabad
Amazon Development Center India Pvt Ltd., 9th & 10th Floor, Bulding#9-, Raheja Mindspace, Madhapur, Hyderabad
040 – 40005111
Chennai
#40,3rd Floor, SP Infocity
M G R Salai, Perungudi
Kandanchavady, Chennai-600096






How to Contact Flipkart Customer Care from the Website

Flipkart Customer Care Support:
Step 1- Launch a web browser on your device and go to ‘https://www.flipkart.com/helpcentre‘ this link.
Step 2- Here, you will be asked to log into your Flipkart account. Enter your details and click on ‘Login‘ to log into your Flipkart account.

Step 3- Now, you need to select the order for which you need to inquire about.
Step 4- Once you select the order, you will see three different options on your screen. Namely, ‘Call me back,‘ ‘Call us,’ and ‘Email us.’ Select the option suitable for you and you will soon be in contact with Flipkart Customer Care.
How to Contact Flipkart Customer Care from the App

As most of you know, you can download and use the app version of Flipkart on your smartphone. You can contact Flipkart Customer Care from the app itself! The steps that must be executed are listed below.

  • Step 1- Launch Flipkart app on your smartphone and log into your account if you are not logged in.
  • Step 2- Now, tap on the three horizontal lines on the top left of your screen. A window will slide out from the left end of your screen.
  • Step 3- Here, scroll down and tap on ‘Help Centre’ You will now be redirected to a new page.
  • Step 4- Here, you will see all your orders. Tap on the order which you wish to inquire about!
  • Step 5- Now, you will be asked to select the issue which you are facing regarding your selected order.
  • Step 6- Once you select the issue, a short explanation depending on your issue will appear on your screen. If this explanation does not solve your query, go ahead and tap on ‘Contact Us’ at the bottom of the page.
  • Step 7- Now, select from the options, how you wish to contact Flipkart Customer Care. The options available are ‘Call me back,’ ‘Call us,’ and ‘Email us.’

Flipkart Customer Care Toll-Free Number & Help Center (Contact Us 24x7)

Welcome, Here you will find all the contact details of Flipkart customer care. Check Toll-Free Number, eMail ID and Address of Flipkart Customer Support Team. If you use Flipkart then you should bookmark this website for future help. You can contact us 24×7 365 days via the following methods.
Need to Contact Flipkart Customer Care? Then Get the Contact Details from Here.

There are chances that you might need to replace your purchased item or ask for a refund if it is under warranty. There might also be many other reasons due to which you might feel the need to contact Flipkart customer service. In that case, you need to know some of the details such as phone numbers, the address of the head office, email ids, etc. Thus here we are, with the list of all the details which you might need to contact Flipkart Customer Care.

Flipkart Customer Care Numbers
  • Flipkart Store Customer Care Number: 1800 208 9898
  • Flipkart Toll-Free Number: 1800-208-9898
  • Flipkart Helpline Number (Not Toll-Free): 0124-615-0000
  • Flipkart Customer Care Suggestion: 1800-1080-1800
  • Flipkart Customer Care Phone Number: 1800-102-3547
Flipkart Customer Support eMail IDs
Email Id’s related to Flipkart are the following.

For Customer Care Department: [email protected]
For Vendors: [email protected]
The Marketing ID of Flipkart is: [email protected]
For Affiliate ID: [email protected]
Business ID of Flipkart is: [email protected]

Read More: How to Contact Flipkart Customer Care from the Website ? 

Registered Office Address of Flipkart

Flipkart Internet Private Limited, Vaishnavi Summit, Ground Floor, 7th Main, 80 Feet Road, 3rd Block, Koramangala, Bengaluru – 560034, India. (Telephone number: 1800 208 9898)

Flipkart Official Mail Address: Flipkart Internet Private Limited, Ozone Manay Tech Park, #56/18 & 55/09, 7th Floor, Garvebhavipalya, Hosur Road, Bangalore – 560068, Karnataka, India.

Official Help Centre: You can visit the Help Centre of Flipkart from ‘flipkart.com/m/helpcentre’ this link. Here, you will find all the answers to FAQs related to Orders, Payment, Shopping, Wallet, Cancellations, and Returns, etc. You will also find the answers to some general questions about Flipkart.

How can I gain weight in 1 month? । In Hindi। ऐसे बढ़ाएं अपना वजन

जहाँ आज एक ओर बहुत से लोग मोटापे (Obesity) से परेशान हैं वही दूसरी ओर बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो दुबलेपन (slimness)  या वजन कम होने की समस्या से जूझ रहे हैं !
वजन ज्यादा या कम होना दोनों ही अनेक स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं का कारण बनता है l जिस तरह weight कम करना मुश्किल कार्य है वैसे ही नेचुरल तरीके से संतुलित वजन बढ़ाना भी चुनोती पूर्ण कार्य है! बहुत से लोग बाजारू products खरीदकर इंस्टैंट कॉफी की तरह तुरंत weight gain करना चाहते हैं जो की भविष्य में उनके लिए अनेक health related issues खड़े कर देता है इसलिए जब भी वजन बढ़ाने का कार्यक्रम शुरू करें तो संतुलित खान पान एवं रहन सहन पर विशेष ध्यान दें !यदि जरूरत हो तो चिकित्सक की राय ले सकते हैं!
कौन है Underweight ?
आयुर्वेद के अनुसार जिस व्यक्ति के शरीर पर शिराओं का जाल दिखाई देता है, अंगुलियों के जोड़े मोटे हो जाते है, शरीर पर हड्डियां ही दिखाई देती है, मांस पेशियों का क्षय हो जाता है l काम करने पर बहुत जल्दी थकान हो जाती है वह व्यक्ति दुबला या Underweight है !

आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के अनुसार वजन कम है या ज्यादा इसका पता करने के लिए BMI ( Body Mass Index ) का प्रयोग किया जाता है l इसके अनुसार उम्र व लम्बाई के अनुपात में वजन का आकलन किया जाता है!

BMI = Weight in kilograms / (Height in meters) 2

आप अपना Body Mass Index (BMI) पता कर लें. और देखें कि यह किस category  में है:

18.5 से कम – Underweight
18.5  से 25 – Normal Weight
25  से 29.9  – Overweight
30  से ज्यादा  – Obese (अत्यधिक वज़नी)
BMI Calculator के ज़रिये अपना BMI जानने के लिए यहाँ क्लिक करें .

दुबलेपन के कारण / Reasons for being underweight in Hindi
खुराक कम लेना
समय पर खाना नहीं खाना
उपवास ज्यादा करना
पौष्टिक आहार नहीं लेना
आनुवंशिकता
शारीरिक श्रम के अनुपात में संतुलित भोजन ना लेना
टीबी ( T.B.), Hyperthyroid, Cancer (कैंसर), Anaemia (रक्ताल्पता) जैसी बीमारियो में weight loss हो जाता है ।
खाने के प्रति अरुचि (Anorexia), अजीर्ण ( Indigestion), जीर्ण अतिसार ( Chronic Diarrhoea ),संग्रहणी ( IBS-irritable bowel syndrome ) जैसी बीमारियाँ भी लगातार बने रहने पर वजन कम हो जाता है ।

कैसे बढायें अपना वजन  / How to Gain or Increase Weight in Hindi 

पर्याप्त आहार ( Rich Diet ) लें – खाने पीने के समय को मिस न करें, सुबह heavy breakfast के अलावा, lunch व dinner समय पर करें । नाश्ते, लंच व डिनर के बीच बीच में हैल्दी स्नैक्स जरूर लें l जैसे फल, ज्यूस, भुने हुए चने,ड्राई फ्रूट्स ले सकते हैं ।
पौष्टिक खान पान ( Healthy Diet ) लें – खान पान में घी, मक्खन, फल, हरी सब्जियां , दूध, दही, ज्यूस, गुड़, ड्राई फ्रूट्स, सलाद आदि शामिल करें । इससे शरीर को भरपूर ऊर्जा मिलती है । इनके लगातार सेवन से दुबलापन दूर होकर शरीर का वजन बढ़ने लगता है, शरीर में चुस्ती फुर्ती आती है, त्वचा चमकदार हो जाती है l चेहरे पर रंगत आने लगती है, आत्मविश्वास बढ़ जाता है l शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है ।
शरीर का वजन बढ़ाने के लिए नीचे बताये गए पौष्टिक खाद्य पदार्थों को अपनी diet में अवश्य include करें –

दूध ( Milk )- दूध वसा, कैल्शियम व विटामिन का बहुत अच्छा श्रोत है । वजन बढ़ाने के लिए दूध सर्वोत्तम आहार है इसके लिए दूध के साथ केले व आम का शेक बनाकर पी सकते हैं l इसके साथ किशमिश व बादाम मिलाकर पीना वजन बढ़ाने के लिए सोने पे सुहागे वाली बात हो जाती है l
फल ( Fruits ) – वजन बढ़ाने के लिए केला, आम, पपीता, खरबूजा, तरबूज, अनार, सेब जैसे फल बहुत लाभदायक माने गए हैं, ये सभी एनर्जी, विटामिन, खनिज लवण व पोषक तत्वों का भंडार हैं । उपर बताये अनुसार दूध के साथ केले व आम का शेक बनाकर पीना, खाना खाने के बाद 1-1 पका केला खाना, दो भोजन के बीच में सेब, अनार व मौसमी गाजर, टमाटर, मौसमी, संतरा व अनार का ज्यूस शरीर की कमजोरी व दुर्बलता को मिटाने के लिए बहुत प्रभावी हैं !
घी, मक्खन, पनीर, दही आदि – शरीर के weight को increase करने में वसा का भी महत्वपूर्ण रोल होता है । उचित मात्रा में इन डेयरी उत्पादों का सेवन करना बहुत उपयोगी है l ये डेयरी उत्पाद वसा, कैल्शियम व विटामिन का महत्वपूर्ण श्रोत हैं l
ड्राई फ्रूट्स ( Dry Fruits )- बादाम, किशमिश, अंजीर, काजू, पिस्ता, मूंगफली ये सभी उत्तम वसा,कार्बो हाइड्रेट एवं पोषक तत्वों का भंडार हैं । इनका उचित रूप में सेवन ना केवल शरीर का वजन बढ़ने में सहायक है बल्कि शरीर को चुस्ती व फुर्ती से भर देता है एवं इम्युनिटी पावर बढाता है l
मांस,मछली,अंडे ( Non vegetarian Diet ) एवं दालें आदि – मांस,मछली,अंडे प्रोटीन का बहुत अच्छे स्रोत हैंl मांस पेशियों का निर्माण करने, शरीर की कोशिकाओ की टूट फूट की मरम्मत करने के लिए बहुत उपयोगी हैं किन्तु मांसाहार का ज्यादा सेवन कोलेस्ट्रोल को बढ़ा देता है जिससे ह्रदय रोग, उच्चरक्तचाप, धमनी काठिन्यता आदि रोगों की सम्भावना बढ़ जाती है इनके विकल्प के रूप में दालें, सोयाबीन, राजमा, पनीर एवं डेयरी उत्पाद प्रयोग करना शाकाहारी लोगों के लिए बेहतरीन विकल्प हैं l जो की प्रोटीन के साथ साथ अन्य पोषक तत्वों का भंडार हैं !
वजन बढ़ाने के लिए जीवन शैली / Lifestyle to gain weight in Hindi

पर्याप्त व गहरी नींद लें (Good Sleep)– शरीर में पुरानी कोशिकाओं की मरम्मत एवं नई कोशिकाओं के निर्माण के लिए गहरी एवं समुचित नींद लेना बहुत जरुरी है अच्छी नींद से शरीर को पर्याप्त पोषण मिलता है l इसलिए रात्रि में समय पर सो जायें एवं सूर्योदय से पूर्व उठ जायें ताकि प्रकृति की अनमोल छठा का आनंद ले सकें l यदि रात में नींद पूरी ना हो तो दिन में कुछ देर विश्राम कर सकते हैं l
हल्का फुल्का व्यायाम करें ( Yoga, exercise etc )- शरीर में ली गई अतिरिक्त कैलोरी का वितरण सही हो,अंग प्रत्यंगों के अनुपात में सही वजन बढ़े, केवल पेट आदि पर चर्बी न बढ़ जाये,इसलिए सुबह शाम घूमना, बैडमिंटन, खेलना, साइक्लिंग,योगा,प्राणायाम आदि अच्छे उपाय माने जाते हैं l इससे कोलेस्ट्रोल भी सही रहता है तथा शरीर की मांसपेशियों सही ढंग से विकसित होती हैं l कुछ लोग जिम जाना पसंद करते हैं इसके लिए gym instructor के निर्देशो का पालन करें किन्तु कभी भी तुरंत सेहत बनाने की हड़बड़ी में ऊल जलूल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें ।
नित्य मालिश करें ( Massage ) – मालिश से शरीर में खून का दौरा बढ़ जाता है l जिससे शरीर के प्रत्येक हिस्से तक खून की आपूर्ति अच्छे ढंग से हो जाती है । त्वचा कोमल एवं चमकदार हो जाती है मांसपेशियों को पोषण मिलता है जिससे शरीर की अच्छी ग्रोथ होती है । मालिश के लिए आयुर्वेद में बताये गए क्षीर बला तेल, बला तेल, बादाम तेल, नारियल तेल ,सरसों तेल उपयोगी है l इनका मौसम के अनुसार चयन करें ।
तनाव से बचें ( No Stress )- कहते हैं चिंता चिता से बढ़कर होती है चिता फिर भी मरने के बाद जलाती है किन्तु चिंता तो जीते जी शरीर को जला देती है । इसलिए यदि आप सेहत बनाना चाहते हैं तो चिंता, तनाव, टेंशन को अपने से दूर ही रखें !
बीमारियों का करें निदान ( Aware of Disease )- यदि आप लगातार पौष्टिक भोजन का सेवन कर रहे हैं , दिनचर्या का भी नियमित पालन कर रहे हैं फिर भी वजन नहीं बढ़ रहा है बल्कि और गिरता जा रहा है तो आप किसी बीमारी से ग्रसित हो सकते है इसलिए वजन बढ़ाने के किसी भी कार्यक्रम को शुरू करने से पहले डॉक्टर से अवश्य सम्पर्क करें !
वजन बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय / Ayurvedic Ways To Gain Weight in Hindi

आयुर्वेद के उपाय अपनाएं ( Apply Ayurvedic Methods)- आयुर्वेद के अति प्राचीन व शीर्षस्थ ग्रन्थ चरक संहिता में हजारों वर्ष पहले सेहत बनाने का जो मूल मंत्र बताया गया है वह आज भी उतना ही महत्पूर्ण है इसमें कहा गया है की पौष्टिक खान पान, चिंता न करने एवं रोज पर्याप्त एवं गहरी नींद लेने से व्यक्ति सिंह के समान ताकतवर, बल शाली एवं पुष्ट शरीर वाला बन जाता है l यह बात आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के बहुत प्रगति कर लेने के बावजूद आज भी उतनी ही सही है जितनी हजारों वर्ष पहले थी!
वजन बढाने में अति उपयोगी आयुर्वेद की कुछ महत्पूर्ण औषधियां ( Ayurvedic Medicines )- आयुर्वेद की कई औषधियां वजन बढ़ाने में बहुत फायदेमंद हैं वो ये हैं- च्यवनप्राश, अश्वगंधा, शतावरी, मूसली, आमलकी, बला, विहारी कंद, शिलाजीत,बादाम पाक,मूसली पाक,पुनर्नवा मंडूर,स्वर्ण भस्म,लौह भस्म ,बसंत कुसुमाकर रस,स्वर्ण बसंत मालती रस आदि l किन्तु इन्हें चिकित्सक की राय से ही सेवन करना चाहिए !
ऊपर बताये गए उपायों के साथ साथ यदि आयुर्वेद में बताई गई ओषधियाँ भी चिकित्सक की राय से ली जायें जो की बिलकुल नेचुरल हैं तो ना सिर्फ संतुलित वजन बढेगा बल्कि चुस्ती फुर्ती, जोश व भरपूर शक्ति मिलेगी,शरीर की रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ेगी, बीमार पड़ने की सम्भावना कम होगी,आत्म विश्वास बढेगा और सदा स्वस्थ रहते हुए सुखी जीवन का निर्वहन कर पाएंगे !

How To Increase Your Hemoglobin Level In Hindi

इन 6 आसान तरीकों से बढ़ा सकते हैं शरीर का हीमोग्‍लाबिन, जानें कैसे-
हीमोग्लोबिन हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। हीमोग्लोबिन हमारी रक्त कोशिकाओं में मौजूद लौह युक्त प्रोटीन है। ये प्रोटीन हमारे शरीर में ऑक्सीजन के प्रवाह को संतुलित करता है। इसका मुख्य काम हमारे फेफड़ों से ऊतकों तक ऑक्सीजन पहुंचाना है ताकि हमारी जीवित कोशिकाएं सही से काम कर सकें। हीमोग्लोबिन हमारी कोशिकाओं से कार्बन डाइऑक्साइड को वापस फेफड़ों तक लाने का भी काम करता है।
कितना जरूरी है हीमोग्‍लोबिन
स्‍वस्‍थ जीवन के लिए हीमोग्लोबिन का लेवल सही होना बहुत जरूरी है। रक्‍त में हीमोग्‍लोबिन का लेवल पता करने के लिए आप किसी लैब में रक्‍त की जांच से पता कर सकते हैं। मेडिकल साइंस के अनुसार, पुरुषों में हीमोग्लोबिन की सही मात्रा 14 से 17 ग्राम/100 मिली. रक्त होती है। जबकि महिलाओं में ये मात्रा 13 से 15 ग्राम/100 मिली. रक्त होती है। अगर शिशुओं की बात करें तो उनके शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा लगभग 14 से 20 ग्राम/100 मिली. रक्त होनी चाहिए।

कैसे बढ़ाएं हीमोग्‍लोबिन का स्‍तर
एक सेब रोजाना
आमतौर पर डॉक्‍टर भी रोजाना एक सेब खाने की सलाह देते हैं। सेब खाने से आपका हीमोग्‍लाबिन लेवल मेनटेन रहता है। इसमें आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो हीमोग्‍लाबिन के स्‍तर को बढ़ाने में मदद करता है। आप रोजाना एक सेब या एक ग्‍लास सेब का जूस नाश्‍ते में ले सकते हैं। यह पेट की समस्‍याओं को भी दूर करता है।

अनार के दानें हैं बेस्‍ट   
अनार रक्‍त में हीमोग्लोबिन बढ़ाने का काम करता है। इसके नियमित सेवन से आसानी से हीमोग्‍लाबिन की कमी दूर की जा सकती है। अनार में आयरन और कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर जैसे तत्व होता हैं, जिनसे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में मदद मिलती है।

लीची भी बढ़ाती है हीमोग्‍लाबिन
स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर लीची, रक्त कोशिकाओं के निर्माण और पाचन-प्रक्रिया में सहायक होती है। लीची में बीटा कैरोटीन, राइबोफ्लेबिन, नियासिन और फोलेट जैसे विटामिन बी उचित मात्रा में पाया जाता है। इसमें मौजूद विटामिन लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण के लिए आवश्यक है।

चुकंदर है बेहतर स्‍त्रोत 
शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने के लिए चुकंदर सबसे अच्छा खाद्य प्रदार्थ है। चुकंदर पोषक तत्वों की खान है। इसमें आयरन, फोलिक एसिड, फाइबर, और पोटेशियम ये सभी सही मात्रा में पाया जाता है। ये शरीर की लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या में तेजी से वृद्धि करता है।

गुड़ खाएं स्‍वस्‍थ रहें
गुड़ का सेवन करना भी एक बेहद उत्तम तरीका है। गुड़ में आयरन फोलेट और कई विटामिन बी शामिल हैं जो हीमोग्लोबिन स्तर को बढ़ाने के लिए और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मददगार होते हैं। गुड़ को आप किसी भी रूप में खा सकते हैं। इसे आप खाना खाने के बाद खाएं या गुड़ से बने व्‍यंजन का सेवन कर सकते हैं।

एक्‍सरसाइज़ भी है जरूरी  
शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी को रोकने के लिए नियमित व्यायाम करना चाहिए। विशेषज्ञों के अनुसार, जब आप व्यायाम करते हैं तब आपका शरीर खुद-ब-खुद हीमोग्लोबिन पैदा करता है। इसलिए जिन लोगों में रक्‍त की कमी होती है या जिनके रक्‍त में ही‍मोग्‍लाबिन लेवल कम होता है उसे एक्‍सरसाइज़ करने की सलाह दी जाती है।

How To Increase Height In Hindi | लंबाई बढ़ाने के आसान तरीके हिंदी में

इन आसान और साधारण तरीकों से बढ़ाएं लंबाई
ऊंचा लंबा कद किसी के भी व्यक्तित्व को बढ़ा सकता है। सेना और पुलिस में ऊंचे कद का होना जरूरी माना जाता है। और अगर मॉडलिंग जैसे क्षेत्र में कदम जमाने हों, तो लंबाई बहुत काम आती है। हालांकि सबकी लंबाई अच्छी नहीं होती। लेकिन लंबाई बढ़ाने के लिए बचपन से ही ध्यान रखना चाहिए। लंबाई बढ़ने की औसत आयु लगभग 18 वर्ष तक होती है।
हमारे शरीर में लंबाई बढ़ाने का सबसे बड़ा योगदान होता है ह्यूमन ग्रोथ हॉरमोन का यानी की एचजीएच। एचजीएच पिटूइटेरी ग्लैंलड से निकलता है जिससे हमारी हाइट बढ़ती है। सही प्रोटीन और न्यूटिशन न मिलने के कारण शरीर का विकास होना बंद या कम हो जाता है। और अगर आप शरीर का सही विकास करना चाहते हैं तो खान-पान का पूरा ध्यान रखना शुरु कर दें। आजकल कोल्ड ड्रिंक्स पीना फैशन बन गया है, लेकिन यह सेहत के लिहाज से सही नहीं है। बर्गर, नूडल्स, पिज्जा खाने से भी हाइट नहीं बढ़ती। दूध, दही, पनीर, मक्खन, दालें खाने से हाइट बढ़ती है। प्रोटीन दूध, दही, अंडे में खूब होता है। विटामिन, मिनरल्स के लिए फल खाओ, जूस पियो और हरी सब्जी, दालें खाना मत भूलना। आइए हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे पोषक तत्व जिनका उपयोग कर के आप अपनी रुकी हुई हाइट को बढ़ा सकते हैं।

ये खाएं, हाइट बढ़ाएं
कैल्शियम- कैल्शियम शरीर के लिए एक आवश्यक खनिज है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम हमें दूध, चीज़, दही आदि में मिलता है। ऊंचा लंबा कद पाने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है।

मिनरल- खनिज हड्डी के ऊतकों का निर्माण करता है। ये हड्डी के विकास और शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं। अगर आपको अपनी लंबाई बढ़ानी है तो खनिज से भरपूर तत्वों का इस्तेमाल करें। यह पालक, हरी बीन्स, फलियां, ब्रोकोली, गोभी, कद्दू, गाजर, दाल, मूंगफली, केले, अंगूर और आड़ू में पाया जाता है।

विटामिन डी- लंबाई बढ़ाने के लिए जिस विटामिन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है उनमें से एक है व‍िटामिन डी। अच्छी तरह से कैल्शियम को हड्डी में अवशोषित करने के लिए, हड्डी के विकास के लिए और प्रतिरक्षा प्रणाली के बेहतर कार्य करने के लिए आपको विटामिन डी की जरूरत होती है जो मछली, दाल, अंडा, टोफू, सोया मिल्कर, सोया बीन, मशरूम और बादाम आदि में पाया जाता है।
प्रोटीन- प्रोटीन रिच फूड न केवल हेल्थी होते हैं बल्कि आपकी हाईट भी बढ़ाते हैं। यह शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं। अमीनो एसिड से भरपूर पदार्थ शरीर को सही ग्रोथ और बेहतर कार्य करने की क्षमता प्रदान करते हैं। कुछ आहार जिनमें प्रोटीन पाए जाते हैं वह हैं- मछली, दूध, चीज़, बींस, मीट, मूगंफली, दालें और चिकन आदि।

विटामिन ए- शरीर के अंगों के सही प्रकार से कार्य करें इसके लिए आपको विटामिन ए से भरा हुआ आहार अपने रोजाना आहार में शामिल करना चाहिए। इससे हड्डियां मजबूत रहेंगी और साथ ही लम्बाई भी बढ़ेगी। तो विटामिन ए का सेवन जरूर करें। पालक, चुकदंर, गाजर, चिकन, दूध, टमाटर आदि के अलावा सब्जियों के जूस का भी सेवन करें।

इसके अलावा कुछ छोटी-छोटी  बातें है जिनको अपनाकर भी आप अपनी हाईट बढ़ा सकते है, जैसे- सही तरीके से बैठें और चलें। कभी भी झुककर बैठना और चलना नहीं चाहिए। चलते और बैठते समय अपनी कमर को सीधा रखें। समय पर सोएं। देर रात तक जागना नहीं चाहिए। रात 10 बजे तक सो जाएं और सुबह उठकर थोड़ा-सा व्यायाम करें, अच्छा रहेगा।

How To Improve Running Speed In Hindi? दौड़ने की Speed कैसे बढ़ाये !

Running Fast करने के लिए क्या करे? fast running कैसे करें? fast runner बनने की चाहत उन्हीं में होती है जो किसी दौड़ में हिस्सा लेकर पहला स्थान बनाना चाहते हैं या फिर कोई आर्मी या पुलिस की नौकरी की तलाश में है। आजकल हर कोई चाहता है कि उसका भी नाम किसी न किसी खेल में आये। ये बहुत अच्छी बात है जहाँ आपका नाम आएगा वहीँ आपके माता-पिता, गांव, शहर यहाँ तक की आप इंटरनेशनल खेलते हैं तो देश का नाम भी आता है। इससे आपका भविष्य तो उज्जवल होता है बल्कि आपको काफी सम्मान भी मिलता है। इसलिए आज हम आपको कुछ बेहतरीन तरीके बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप तेज दौड़ लगा सकते हैं। आइये जानते हैं-
Fast Running कैसे करें
Army हो या police में कम समय में ज्यादा दुरी तय करनी पड़ती है। इसलिए इसके लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है। दौड़ के लिए stamina होना बहुत जरूरी है। आर्मी में लगभग 5 मिनट में 1600 miter दौड़ लगाना एक्सेलेंट माना जाता है कई लड़के तो 4 मिनट में ही इतनी दुरी तय कर लेते हैं। अगर आप भी अपने आपको फ़ास्ट रनर बनाना चाहते हैं तो बताये गए tips पर अमल करें।

Days Wise Chart बनायें
दौड़ने की शुरुआत करने से पहले आप complete plan बना लें की आपको कितने दिन में कितने समय में कितनी दुरी तय करनी है। उसके हिसाब से आप daily अपने time और दुरी को एक notebook में लिखें और उसे follow करें। अगर आप पहली बार दौड़ लगा रहे हैं तो ध्यान रहे एक दूँ कुछ नहीं होने वाला है कम से कम 1-2 महीने आपको अपनी speed बढ़ाने में लग जाएँ। इसलिए आप हफ्ते के हिसाब से अपने टाइम और दुरी को सेट करें। जैसे पहले हफ्ते आपने 300 miter दौड़ना है तो आप पहले से 4 दिन तक ज्यादा समय ले सकते हैं और आगे के 3 दिन जोर लगा के कम से कम समय में 300 miter की दुरी तय करनी है। इसी तरह आप दूसरे हफ्ते दुरी को बढ़ाएं और जब तक आप 1600 miter 5 मिनट में तय नहीं कर पाए रोजाना practice करें।

Morning Time Running करें 
हमारे बहुत सारे फ्रेंड्स हमसे पूछते हैं की रनिंग फ़ास्ट करने के लिए बेस्ट टाइम कौन सा होता है इसलिए आज हम उन्हें बताने जा रहे हैं कि रनिंग करने का कोई बेस्ट टाइम नहीं होता है आप जब चाहे कर सकते हैं। शुबह या शाम अच्छा समय है लेकिन अगर आप शुबह के समय करें तो आपको काफी फायदा मिलेगा। इससे न सिर्फ आपकी रनिंग स्पीड बढ़ेगी बल्कि आपका शरीर स्वस्थ और आपके फेफड़ों ह्रदय को स्वच्छ हवा मिलेगी।

Body को Stretch करें 
Running को बेहतर बनाने के लिए बहुत जरूरी है कि आप अपनी body को stretch करें। इससे आप tight muscles loose होते हैं हैं जिससे fast running में आसानी होती है। अपने पैरों को मजबूती देने के लिए आप सीढ़ियों से उप्पर नीचे करें जब तक आप पुरे नहीं थकते इससे आपको अपनी सांसों पर control करना भी आ जायेगा।
अच्छी नींद लें 
हमारे शरीर के लिए सोना बहुत जरूरी है। इससे हमारे muscles को शांति मिलती है और शरीर को नयी ऊर्जा। पूरी नींद लेने से body पूरी तरह से relax हो जाती है और आप फिर दोबारा running continue कर सकते हो। अगर आप पूरी तरह से अपनी नींद को पूरा नहीं करते हैं तो आपका मन दूसरे दिन से दौड़ने का नहीं करेगा। कम से कम 7-8 घंटे सोना शरीर के लिए बहुत जरूरी है।

बॉडी मी फ्यूल को अप करना  
रनिंग के टाइम स्लगिश महसूस होन पर बहत जरुरी है की आप सही प्रीरुन फूड खैय। क्रैप्स से बैच के लिय आपको  जरुरी है की साही खाद्य पदार्थ का चयन करें। रनिंग करने से पहल आपको एक छोटा सा नाश्ता या सरल केकड़े जिस्मे प्रोटीन की मात्रा ज्यादा  हो को खा सकते  है। रनिंग में जाने  के 30 मिनट पहले  एक कप कोफी जरूर पिये। इससे आपकी रनिंग फ़ास्ट होती हे !

Healthy Diet लें 
Fast running के लिए बहुत जरूरी है की आप healthy diet लें। शरीर को पूरी तरह से energy देने के लिए हमें healthy भोजन करना बहुत जरूरी है। अगर आपका शरीर healthy नहीं रहेगा तो आप fast running नहीं कर पाओगे इसलिए आप जितना हो सके फल, सब्जियां, दूध, मांस, मछली कह सकते हैं ये सारे foods आपको healthy रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा आप fast food और cold drink से दूर रहें।

भरपूर पानी पियें
शरीर को healthy और fit रखने के लिए शरीर में पानी का भरपूर होना बहुत जरूरी है। Running करने से आधा घंटे पहले पानी पीना बहुत बेहतर होता है इससे आपकी running performance बेहतर होती है और आप ज्यादा समय तक running कर पाते हो। जब रनिंग करते हो तो body से पसीना निकलता है जो आपकी body में पानी की कमी नहीं होती है।

Drills करना
Warm Up routine में आप running drills को जोड़ने से आपका रनिंग स्पीड बढ़ेगी। Running करने से पहले कुछ मिनट के लिए आप high knees, skipping, backward running करें इससे आपके शरीर को मजबूती मिलेगी और वह ज्यादा देर तक काम करेगा। इससे आपकी जांघ मजबूत होंगी और आप लम्बे समय तक दौड़ लगा सकते हो।

Short Strides लगाना
Shorter strides एक अच्छा एक्सरसाइज है जो आपके स्पीड में बढ़ोतरी करेगा। अपनी strides को regular और short रखे ताकि आपकी रनिंग efficiency increase होने में help मिलेगी।

How Stay Fit Active Home In Hindi - घर पर ही रहें फिट और एक्टिव

फिट रहना तो सभी महिलाएं चाहती हैं, लेकिन रह कुछ ही पाती हैं। लेकिन घर और ऑफिस की दोहरी जिम्मेदारी को देखते हुए खुद को हेल्दी रखना बहुत जरूरी है। यहां बताए गए टिप्स आपके लिए हेल्पफुल हो सकते हैं :
अच्छी जिंदगी जीने के लिए स्वस्थ रहना जरूरी है। महिलाओं के केस में तो यह और भी जरूरी हो जाता है, क्योंकि घर के साथ-साथ ऑफिस के काम का दारोमदार भी आप पर ही होता है। माना कि आज की बिजी लाइफ में लाइफस्टाइल काफी बदल गया है, लेकिन यकीन मानिए खुद को फिट रखना इतना मुश्किल नहीं है। इसके लिए जरूरत अपने प्रति कमिटमेंट की है, जिसमें यहां बताई गई बातें आपकी खासी मदद करेंगी।

हेल्दी फूड खाएं
खान-पान का हेल्थ पर सीधा असर पड़ता है, इसलिए जरूरी है कि आप हेल्दी फूड खाएं। रोज ताजी सब्जियों और फलों को अपनी डाइट में शामिल करें। जंक फूड या बाहर का खाना अवॉइड करें। अपनी बॉडी की जरूरत के हिसाब से खाएं और ओवर ईटिंग से बचें। इसके अलावा, खाने के वक्त का भी ख्याल रखें। अगर आपको हर वक्त कुछ न कुछ खाने की आदत है, तो इससे निजात पाने की कोशिश करें। याद रखिए, बीमारियों से बचने के लिए बैलेंस्ड डाइट सबसे अच्छा हथियार है।

वेट पर हो कंट्रोल
मोटापा तमाम बीमारियों की जड़ है। खासतौर पर हार्ट संबंधी बीमारियों व डायबीटीज का मुख्य कारण ओवर वेट होना है। हेल्दी फूड और रेग्युलर एक्सरसाइज से आप वेट कंट्रोल में रख सकती हैं। इससे आप सुंदर तो लगेंगी ही, साथ ही एक्टिव भी रहेंगी।

रोज करें एक्सरसाइज
ज्यादातर महिलाएं एक्सरसाइज नहीं करतीं , जबकि वयस्कों के लिए जरूरी है कि वे रोज कम से कम 30 मिनट तक फिजिकल एक्टिविटी या एक्सरसाइज करें। व्यायाम में कोई बहुत ज्यादा वक्त नहीं लगता , लेकिन इसके लिए कमिटमेंट जरूरी है। धीरे - धीरे शुरुआत करके अपनी क्षमता के हिसाब से वर्क आउट करें। अपनी बॉडी को शेप में रखने के लिए डांसिंग , बागबानी , जॉगिंग , स्विमिंग या वॉकिंग का सहारा ले सकती हैं।

रहें स्मोक फ्री
कैंसर , लंग में इंफेक्शन , अर्ली मीनोपॉज , इनफर्टिलिटी और प्रेग्नेंसी संबंधित परेशानियों की एक बड़ी वजह स्मोकिंग है। स्मोकिंग दिल की बीमारियों से होने वाली मौतों का सबब बनती है। यहां तक कि दूसरों द्वारा की जाने वाली स्मोकिंग भी आपकी हेल्थ पर नेगेटिव इफेक्ट डालती है। अगर आप स्मोकिंग करती हैं , तो आज ही इसे छोड़ने का संकल्प लें। इसके लिए आप मेडिटेशन , काउंसलिंग जैसे कई कारगर तरीकों का यूज कर सकती हैं।

नियमित चेकअप कराएं
अपने स्वास्थ्य की जांच नियमित रूप से करवाती रहें। उम्र , सेहत और पिछली बीमारियों आदि महत्वपूर्ण तथ्यों की जानकारी अपने डॉक्टर को दें। हर 6 महीने या साल में अपनी पूरी बॉडी की स्क्रीनिंग कराएं। इससे कई छोटी - बड़ी बीमारियों का वक्त पर पता चल जाता है , जिससे इनके ट्रीटमेंट में काफी आसानी रहती है।

वैक्सीनेशन ना भूलें
वैक्सीनेशन केवल बच्चों के लिए ही जरूरी नहीं होता , बल्कि बड़ों को भी इसकी जरूरत होती है। कुछ इंजेक्शंस सभी के लिए होते हैं। अगर आप कुछ विशेष काम करती हैं या आपका लाइफस्टाइल अलग है या आपको कुछ विशेष जगहों पर आना - जाना पड़ता है , तोे डॉक्टर की सलाह के अनुसार जरूरी वैक्सीनेशन जरूर करवाएं।

तनाव से बचिए
तनाव अक्सर अपने साथ कई तरह की बीमारियां लाता है। घर और जॉब दोनों की ही अपनी जरूरतें हैं। ऐसे में खुद को इन उलझनों के तनाव से बचाना एक चुनौती जैसा होता है। सही तरीका यह है कि दोनों जगहों पर बैलेंस बनाकर रखा जाए। खुद पर अतिरिक्त दबाव न आने दें। कई अन्य एक्टिविटीज जैसे पेंटिंग , योग , संगीत आदि भी तनाव कम करने में मदद करती हैं , इसलिए खुद को इनमें इंवोल्व करिए।

खतरों को पहचानिए
अपनी हेल्थ से जुड़े खतरों के बारे में जानिए। आप अपनी आदतों , लाइफस्टाइल , काम और घरेलू वातावरण से भी अपने बारे में काफी कुछ जान सकती हैं। आप जो कुछ कर रही हैं , खा - पी रही हैं , वह आपको हेल्थ से जुड़े खतरों के बारे में बताता है। सजग रहिए और अपने बारे में जानिए।

सेफ रहना जरूरी
अपनी बॉडी को प्रोटेक्ट करें। बीमारियों के खतरों से खुद को बचाएं। बात चाहे हेलमेट पहनने की हो या फिर सीट बेल्ट बांधने की या फिर सनस्क्रीन लगाने और हाथ धोने की , किसी भी बात पर लापरवाही न दिखाएं और हर पॉइंट पर अपनी सेफ्टी का ध्यान रखें। काम के दौरान महिलाएं अक्सर दुर्घटनाओं की शिकार हो जाती हैं , इसलिए हमेशा सावधानी से काम करें।

 खुश रहना सीखें
केवल हेल्थ के बारे में ही कॉन्शस न रहें , बल्कि अपने लाइफस्टाइल को भी चेक करें। खुद को वक्त दें। पूरी नींद लें और अपनी हॉबीज को एंजॉय करें। खुद को अच्छा रखने के लिए जॉब और घर में बैलेंस रखें। अगर आप काम नहीं कर पा रही हैं , तो थकने की बजाय किसी और की मदद लें। खुद को फ्रेश रखें और हमेशा हंसती रहें।

 अच्‍छी सेहत हजार नियामत होती है। इसके लिए जरूरी है कि आप इसका पूरा खयाल रखें। अपने खानपान को सं‍यमित रखें, साथ ही भरपूर व्‍यायाम करें। इससे आप फिट और एक्टिव रहेंगी। और साथ ही कई बीमारियों से भी बची रहेंगी।

Friday, 28 September 2018

25 Tips To Lose Weight in Hindi | कैसे तेजी से घटाएं अपना वज़न?

Weight Lose या Reduce  करना एक ऐसा topic है जिसपे जितने मुंह उतनी बातें सुनने कोमिलती हैं. लोग एक से बढ़कर एक tips या diet-plan बताते हैं, जिसके हिसाब से Weight Reduce  करना मानो बच्चों का खेल हो. पर हकीकत तो आप जानते ही हैं कि ये असल में कितना challenging काम है. इसीलिए मैं आज आपके साथ How to reduce weight, Hindi  में share कर रहा हूँ. मेरी कोशिश होगी की यह लेख  Hindi में इस विषय पर लिखे गए सबसे अच्छे लेखों में से एक हो.
जो ज़रुरत से ज्यादा खायेगा वो समय से पहले जाएगा…
Weight बढ़ने का विज्ञान बड़ा सीधा-साधा है. यदि आप खाने-पीने के रूप में  जितनी Calories ले रहे हैं उतनी burn  नहीं करेंगे तो आपका weight बढ़ना तय है. दरअसल बची हुई Calorie ही हमारे शरीर में fat के रूप में इकठ्ठा हो जाती है और हमारा वज़न बढ़ जाता है.

वज़न कम करने की प्रक्रिया शुरू करने से पहले आपको ये जानना चाहिए कि आपका present weight सही है या नहीं. इसके लिए आप कृपया इस लेख को पढ़ें  कैसे जानें आपका वज़न सही है या नहीं ? यहाँ से आप अपना Body Mass Index जान पायेंगे. BMI  एक बहुत ही  simple tool  है जो आपके वज़न और लम्बाई के हिसाब से आपकी body में कितना  fat  है बताता है.  आपका BMI ये बताता है कि आप किस weight category  में आते हैं:

18.5 से कम – Underweight
18.5  से 25 – Normal Weight
25  से 29.9  – Overweight
30  से ज्यादा  – Obese (अत्यधिक वज़नी)
अब यदि आप Overweight या Obese हैं तो ही आपको अपना वज़न कम करने की ज़रुरत है. और यदि आपको इसकी ज़रुरत है तो आपको ये भी जाना चाहिए कि जिस इस्थिति में आप पहुंचे हैं उसकी वज़ह क्या है. वैसे आम-तौर पर वज़न बढ़ने के दो कारण होते हैं:
 खान–पान : Weight  बढ़ने का सबसे प्रमुख कारण होता है हमारा खान-पान. यदि हमारे खाने में कैलोरी की मात्र अधिक होगी तो वज़न बढ़ने के chances  ज्यादा हो जाते हैं. अधिक तला-भुना , fast-food, देशी घी, cold-drink  आदि पीने से शरीर में ज़रुरत से ज्यादा calories इकठ्ठा हो जाती  हैं जिसे हम बिना extra effort के burn नहीं कर पाते और नतीजा हमारे बढे हुए वज़न के रूप में दिखाई देता है. यदि आप इस बात की जानकारी रखें कि आपके शरीर को हर दिन कितने कैलोरी की आवश्यकता है और उतना ही consume करें तो आपका weight  नहीं बढेगा.
 Inactive होना : अगर आपकी दिनचर्या ऐसी है कि आपको ज्यादा हाथ-पाँव नहीं हिलाने पड़ते तो आपका weight बढ़ना लगभग तय है. ख़ास तौर पर जो लोग घर में ही रहते हैं या दिन भर कुर्सी पर बैठ कर ही काम करते हैं उन्हें जान-बूझ कर अपनी daily-life  में कुछ physical activity involve  करनी चाहिए. जैसे कि आप lift  की जगह सीढ़ियों का प्रयोग करें, अपने interest का कोई खेल खेलें , जैसे कि badminton, table-tennis, इत्यादि. यदि आप एक treadmill या एक gym cycle afford  कर सकें और उसे नियमित रूप से प्रयोग करें तो काफी लाभदायक होगा. वैसे सबसे सस्ता और सरल उपाय है कि आप रोज़ कुछ देर टहलने की आदत डाल लें.
पर इसके अलावा भी कई कारणों से आपका वज़न बढ़ सकता है .अन्य कारणों को आप यहाँ देख सकते हैं: वज़न बढ़ने के 10 प्रमुख कारण

अब जब आप weight बढ़ने का कारण जान गए हैं तो इसे lose या  reduce  करना आपकी इच्छाशक्ति  और जानकारी पर निर्भर करता है. यहाँ मैं Weight Lose करने की ऐसी ही कुछ TIPS HINDI में share कर रहा हूँ.उम्मीद है ये जानकारी आपके काम आएगी.

TIPS TO LOSE WEIGHT IN HINDI
1. सब्र  रखें   : याद   रखिये   की आज जो आपका weight है  वो कोई दो -दिन  या  दो  महीने   की  देन  नहीं  है . ये  तो बहुत  समय  से चली  आ  रही  आपकी life-style का  नतीजा  है. और यदि आपको weight loss करना है तो निश्चित  रूप  से आपको सब्र  रखना  होगा. बेंजामिन फ्रैंकलिन का  ये कथन -” जिसके पास धैर्य है वह जो चाहे वो पा सकता है.” हमेशा मुझे प्रेरित करता है. तो आप भी तैयार रहिये कि इस काम में वक़्त लगेगा. हो सकता है शुरू के एक-दो हफ्ते आपको अपने वज़न में कोई अंतर ना नज़र आये पर येही वो वक़्त है जहाँ आपको मजबूत बने रहना है, धैर्य रखना है, हिम्मत रखना है.

 2.अपने efforts में यकीन रखिये : किसी भी और चीज से ज्यादा ज़रूरी है कि आप weight loss के लिए जो efforts कर रहे हैं उसमे आपका यकीन होना.  यदि आप एक तरफ daily gym जा रहे हैं और दूसरी तरफ दोस्तों से ये कहते फिर रहे हैं कि जिम-विम जाने का कोई फायदा नहीं है तो आपका subconscious mind भी इसी बात को मानेगा, और सच-मुच आपको अपने एफ्फोर्ट्स का कोई रिजल्ट नहीं मिलेगा. खुद से positive-talk करना बहुत ज़रूरी है. आप खुद से कहिये कि, ” मैं फिट हो रहा हूँ”, ” मुझे results मिल रहे हैं” , आदि.

3.Visualize करिए : आप जैसा दिखना चाहते हैं वैसे ही खुद के बारे में सोचिये. यकीन जानिये ये आपको weight lose करने में मदद करेगा.आप चाहें तो आप अपने कमरे की दीवार, या कंप्यूटर स्क्रीन पर कुछ वैसी ही फोटो लगा सकते हैं जैसा कि आप दिखना चाहते हैं. रोज़ खुद को वैसा देखना उस चीज को और भी संभव बनाएगा.

4.नाश्ते के बाद , पानी को अपना main drink  बनाएं : नाश्ते के वक़्त orange juice, चाय , दूध इत्यादि ज़रूर लें लेकिन उसके बाद पुरे दिन पानी को ही पीने के लिए इस्तेमाल करें. कोल्ड-ड्रिंक को तो छुए भी नहीं और चाय-कॉफ़ी पर भी पूरा control रखें .इस तरह आप हर रोज़ करीब 200-250 Calories कम consume करेंगे.

5.Pedometer का प्रयोग करें: ये एक ऐसी device है जो आप के हर कदम को count करता  है. इसे अपने बेल्ट में लगा लें और कोशिश करें की हर रोज़ 1000 Steps extra चला जाये. जिनका weight अधिक होता है वो आम तौर पर दिन भर में बस दो से तीन हज़ार कदम ही चलते हैं. यदि आप इसमें 2000  कदम और जोड़ दें तो आपका current weight बना रहेगा और उससे ज्यादा चलने पर वज़न कम होगा.एक standard pedometer की कीमत 1000 से 1500 रुपये तक होती है.

6.अपने साथ एक छोटी सी diary रखें : आप जो कुछ भी खाएं उसे इसमें लिखें. Research में पाया गया है कि जो लोग ऐसा करते हैं वो औरों से 15% कम calories consume करते हैं.

7.जानें आप  कितनी calories लेते हैं, और उसमे 10% add कर दें: यदि आपको लगता है कि आप हर रोज़ 1800 कैलोरी लेते हैं और  फिर भी आपका वज़न control नहीं हो रहा है तो शायद आप अपनी calorie intake का गलत अनुमान लगा रहे हैं. आम तौर पर यदि आप अपने अनुमान में 10% और जोड़ दें तो आपका अनुमान ज्यादा accurate हो जायेगा. For Example: 1800 की जगह 1800 + 180 = 1980 Calorie.

8.तीन time खाने की बजाये 5-6 बार थोडा-थोडा खाएं: South Africa में हुई एक research में ये पाया गया की यदि व्यक्ति  सुबह, दोपहर, शाम  खाने की बजाये दिन भर में 5-6 बार थोड़ा-थोड़ा खाए  तो वो 30% कम कैलोरी consume करता है. और यदि वह  उतनी  ही कैलोरी ले  रहा है जितना की वो तीन बार खाने में लेता  है तो भी  ऐसा करने से body कम insulin release करती  है , जो की आपके blood sugar को सही रखता  है और  आपको भूख  भी कम लगती  है.

9.रोज़ 45 मिनट  टहलिए  : रोज़ 30 मिनट टहलना आपका weight बढ़ने नहीं देगा लेकिन यदि आप अपना weight घटाना चाहते हैं तो कम से कम 45 मिनट रोज़ टहलना  चाहिए. अगर  आप रोज़ ऐसा कर लेते हैं तो बिना  अपना खान – पान बदले  भी आप साल  भर में 15Kg वज़न कम कर सकते हैं. और यदि आप ये काम सुबह सुबह ताज़ी हवा  में करें तो बात  ही कुछ और है. पर इसके लिए आपको डालनी  होगी सुबह जल्दी उठने  की आदत .

10.नीले रंग का अधिक प्रयोग करें: नीला रंग भूख को कम करता है. यही वजह है कि अधिकतर restaurants इस रंग का प्रयोग कम करते हैं. तो आप खाने में blue plates use करें , नीले कपडे पहने, और टेबल पर नीला tablecloth डालें.इसके opposite red,yellow, और orange color खाते वक़्त avoid करें, ये भूख बढाते हैं.

11.अपने पुराने कपड़ों को दान कर दें : एक बार जब आप सही weight पा चुके हैं तो अपने पुराने कपडे, जो अब आपको loose होंगे, उन्हें किसी को दान कर दें. ऐसा करने से दो फायदे होंगे. एक तो आपको कुछ दान कर के ख़ुशी होगी और दूसरा आपके दिमाग में एक बात रहेगी कि यदि आप फिर से मोटे हुए तो वापस इतने कपडे खरीदने होंगे. ये बात आपको अपना weight सही रखने के लिए encourage करेगी.

12.खाने के लिए छोटी plate का प्रयोग करें: अद्ध्यनो से पता चला है कि चाहे आपको जितनी भी भूख लगी हो; यदि आपके सामने कम खाना होगा तो आप कम खायेंगे, और यदि ज्यादा खाना रखा है तो आप ज्यादा खायेंगे. तो अच्छा होगा कि आप थोड़ी छोटी थाली उसे करें जिसमे कम खाना आये. इसी तरह चाय -कॉफ़ी के लिए भी छोटे cups प्रयोग करें.बार बार खाना लेना आपका calorie intake बढाता है इसलिए आपको जितना खाना है उसी हिसाब से एक ही बार में उतना खाना ले लें.

13.जहां खाना खाते हों वहाँ सामने एक शीशा लगा लें: एक  study में ये पाया गया कि शीशे के सामने बैठ कर खाने वाले लोग कम खाते हैं. शायद खुद को out of shape देखकर उन्हें ये याद दिलाता हो कि weight कम करना उनके लिए बेहद ज़रूरी है.

14.Water-rich food खाएं:  Pennsylvania State University  की एक research में पाया गया है कि water-rich food , जैसे कि टमाटर,लौकी, खीरा, आदि खाने से आपका overall calorie consumption कम होता है.इसलिए इनका अधिक से अधिक प्रयोग करें.

15.Low-fat milk का प्रयोग करें:  चाय , कॉफ़ी बनाने में, या सिर्फ दूध पीने के लिए भी skim milk use करें, जिसमे calcium ज्यादा होता है और calories कम.

16.90% खाना घर पर ही खाएं: अधिक से अधिक घर पर ही खाना खाएं, और यदि आप बाहर भी घर का बना खाना ले जा सकते हों तो ले जायें. बाहर के खाने में ज्यादातर high-fat और  high-calorie होती हैं.इनसे बचें.

17.धीरे-धीरे खाएं: धीरे खाने से आपका ब्रेन पेट भर जाने का सिग्नल पहले ही दे देगा और आप कम खायेंगे.

18.तभी खायें जब सचमुच भूख लगी हो: कई बार हम बस यूँहीं खाने लगते हैं. कई लोग आदत, boredom, या nervousness की वज़ह से भी खाने लगते हैं. अगली बार तभी खाएं जब आपको वाकई में भूख सहन ना हो. यदि आप कोई specific चीज खाने के लिए खोज रहे हैं तो ये भूख नही बस स्वाद बदलने की बात है, जब सच में भूख लगेगी तो आपको जो कुछ भी खाने को मिलेगा आप खाना पसंद करेंगे.

 19.जूस पीने की बजाये फल खाएं: जूस पीने की बजाये फल खाएं, उससे आपको वही लाभ होंगे, और जूस की अपेक्षा फल आपकी भूख को भी कम करेगा, जिससे overall आप कम खायेंगे.

20.ज्यादा से ज्यादा चलें: आप जितना ज्यादा चलेंगे आपकी calories उतना ही अधिक burn  होंगी. लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का इस्तेमाल करना, आस-पास पैदल जाना  आपके लिए मददगार साबित होगा. घर में भी आप दिन भर में एक-दो बार अपनी छत का चक्कर लगाने की कोशिश करें. छोटे-छोटे efforts बड़ा result देंगे.

21.हफ्ते में एक दिन कोई भारी काम करें: हर हफ्ते कोई एक भारी काम या activity करें. जैसे की आप अपनी bike या  car  धोने का सोच सकते हैं, बच्चों के साथ कहीं घूमने जाने का plan कर सकते हैं, या अपने spouse की हेल्प करने के लिए घर की सफाई कर सकते हैं.

22.ज्यादातर कैलोरीज़ दोपहर से पहले कंस्यूम कर लें:  Studies से पता चला है कि जितना अधिक आप दिन के वक़्त खा लेंगे रात में आप उतना ही कम खायेंगे.और दिन में जो calories आपने consume की है उसके रात तक burn हो जाने के chances अधिक हैं .

23.डांस करें: जब कभी आपको वक़्त मिले तो बढ़िया music लगा  कर dance करें. ऐसा करने से आपका मनोरंजन भी होगा और अच्छी-खासी calories भी burn हो जाएँगी. यदि आप इसको routine में ला पाएं तो बात ही क्या है.

24. नींबू और शहद का प्रयोग करें : रोज सुबह हल्के गुनगुने पानी के साथ नीबू और शहद का सेवन करें.ऐसा करने से आपका वज़न कम होगा. यह उपाय हमारे पाठक Mr. V D Sharma जी ने अपने अनुभव के मुताबिक बताया है. ऐसा करके उन्होंने अपना वज़न १० किलो तक कम किया है.उम्मीद है यह आपके लिए भी कारगर होगा. इस पोस्ट में मोटापा कम करने के और भी बहुत से आयुर्वेदिक व घरेलू उपाय दिए गए हैं.

25. दोपहर में खाने से पहले 3 ग्लास पानी पीयें : ऐसा करने से आपको भूख कुछ कम लगेगी, और यदि आप अपना वज़न कम करना चाहते हैं तो भूख से थोडा कम खाना आपके लिए लाभदायक रहेगा.

याद रखिये कि weight reduce करने के लिए आपको सब्र रखना होगा. छोटी-छोटी बातों पर ध्यान देकर आप इस काम को तेजी से कर पायेंगे. और इस दौरान आप जो कर रहे हैं उस पर यकीन करना बहुत ज़रूरी है.Hope these tips will help you to reduce weight fast. All the best. 🙂

How To Sleep better In Hindi | How Do You Fall Asleep In 5 Minutes?

हर इंसान को नींद की ठीक उतनी ही जरूरत होती है जितनी उसे खाने और पीने की. कई बार हमारा शरीर थकावट से चूर-चूर होता है, या दिन भर के कामकाज के बाद जब हम रात में सोने जाते हैं या फिर सोने की कोशिश करते है तो नींद आने का नाम नहीं लेती। ठीक से नींद न आना या पर्याप्त  मात्रा मे न सोना भी कई बीमारियों की जड़ है। अनिद्रा को मनोविज्ञान की भाषा मे insomnia (इनसॉम्निया) भी कहा जाता है।हमें कितनी
नींद की आवश्यकता होती है – HOW MUCH SLEEP DO WE REALLY NEED
हमे कितना सोना चाहिए ये हमारी उम्र पर निर्भर होता है।

1 छोटे बच्चे – लगभग 17 घन्टे
2- किशोर – लगभग 9 से 10 घन्टे
3- व्यस्क – लगभग 8 घन्टे

मनोविज्ञानिकों का कहना है कि हमे रात में कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद तो लेनी ही चाहिए जो की  अच्छे स्वास्थ्य के लिए काफी जरूरी है। ऐसे में ठीक से नींद न आना या न सोना वाकई एक समस्या पैदा कर सकती है।

क्या होगा अगर आप ठीक से नींद नहीं लेंगे – – WHAT HAPPENS IF A PERSON DOES NOT SLEEP?
अगर आप कई रातों मे ठीक से ना सो पाये तो
  • आंखों के नीचे काले घेरे पड़ सकते है।
  • चिड़चिड़ापन और एकाग्रता में कमी
  • पेट की गड़बड़ी
  • निर्णय लेने में दिक्कत
  • उदासी मह्सूस होगी
  • थकान
  • अनिद्रा से उच्च रक्तचाप(high blood pressure), मधुमेह(diabetes) ,तनाव(stress), डिप्रेशन और मोटापा जैसी बीमारियाँ हो सकती हैं|
  • कारण – CAUSE OF SLEEP PROBLEMS IN HINDI
मनोवैज्ञानिक कारण – PSYCHOLOGICAL REASONS OF SLEEP DISTURBANCES IN HINDI  

  • चिंता और मानसिक अवसाद
  • रोजगार से सम्बन्धित परेशानियां
  • बार –बार किसी परेशानी के बारे मे सोचना
  • उदासी की बीमारी
  • किसी बात को लेकर चिन्ता
  • मानसिक और भावनात्मक असुरक्षा
  • अकेलापन और निराशा
  • अन्य कारण – OTHER REASONS OF SLEEP DIFFICULTIES  
  • सोने की कोई नियमित दिनचर्या न होना
  • कोई बीमारी , दर्द या बुखारहोना
  • बहुत देर से भोजन खाना
  • भूखे पेट ही सोने के लिए चले जाना
  • कमरे का ज्यादा ठंडा होना
  • देर रात तक टीवी और इंटरनेट के साथ ज्यादा टाइम बिताना
  • बहुत ज्यादा चाय या कॉफी पीना
  • दिन भर कोई काम न करना
  • शराब और सिगरेट की लत

क्या करना चाहिए ? – HOW TO SLEEP BETTER IN HINDI
1 रिसर्च मे पाया गया है की जो लोग दिन मे 2-3 बार से ज्यादा चाय या फिर कॉफी पीते है वह रात मे चाह कर भी जल्दी नहीं सो पाते। क्योकि चाय और कॉफी मे  कैफीन नामक रसायन होता है जो हमारी नींद को प्रभावित करता है इसलिए सोने से पहले भी चाय और कॉफी नहीं पीनी चाहिए।

2 अगर आपको कोई चीज़ परेशान कर रही है और आप उसके बारे में बार बार सोचकर भी उसे सही तरीके से नहीं निपटा पा रहे हैं  तो उस प्रोब्लेम को सोने से पहले की किसी कागज़ पर लिख लें और खुद से कहें कि आप कल इस problem को solve करेंगे। इससे आपको एक तरह की मानसिक संतुष्टि मिलेगी और सोने मे कोई दिक्कत नहीं आयगी।

3 अगर आप सोना चाहते है पर नींद नहीं आ रही है तो थोड़ी देर के  लिए उठ जाएं और कुछ पढ़ना,  tv देखना या फिर कोई  हल्का संगीत सुनना और शुरू कर दे। थोड़ी देर मे नींद अपने आप आ जायगी।

4 सोने से पहले जीतने हो सके उतना कम इंटरनेट का इस्तेमाल करे।

5 किसी भी तरह की मोटापा घटाने या बढ़ाने वाली दवाइयो का इस्तेमाल ना करे क्योंकि ये दवाइयाँ आपकी नींद को प्रभावित करती है। इन दवाइयो के कारण या तो आपको बहुत ज्यादा नींद आयगी या फिर बहुत कम।

6 पढ़ने ,कुछ सोंचने या कुछ खाने पीने के एकदम बाद सोने के लिए न जाये क्योकि तब आपका दिमाग excited होता है जिसकी वजह से ठीक से नींद नहीं आती ।

7 दिन मे जितना कम हो सके उतना कम सोये। अगर आप दिन मे ज्यादा सोते है तो रात मे देर से नींद आती है।

8 सोने से पहले नहाने से अच्छी और आरामदायक नींद आती है।

9 रात मे खाना खाने के कुछ देर बार जरूर थोड़ा टहलना चाहिए। इससे हाजमा तो अच्छा रहता ही है साथ ही रात मे नींद भी आरामदायक आती है।

10 सोने से पहले 5 मिनट किसी भी चीज पर concentrate कीजिये। आप इसे प्रार्थना या ध्यान भी समझ सकते है। इससे आपका दिमाग शांत हो जाएगा और अच्छी नींद आयगी।

11 हमारा सोने के समय भी हमारी आदत का एक हिस्सा है। हमारे सोने और जागने के समय को हमारा दिमाग एक आदत की तरह लेता है और उसी प्रकार respond करता है। इसलिए अपने सोने और जागने के समय को फिक्स करे। इससे आपको अनिद्रा जैसी समस्या नहीं होगी।

कई लोग नींद न आने की situation मे बिना डॉक्टर की सलाह के नींद की गोलियां लेना शुरू कर देते है जो की खतरनाक है। नींद की गोलियां लेने से उसकी आदत पढ़ जाती है जिसके बाद आप रोजाना उन गोलियो के बिना नहीं सो सकते। इसलिए अगर आपकी समस्या बढ़ गई है तो डॉक्टर के पास जाएँ। रात मे देर से सोना डिप्रेशन, मोटापे, high BP, diabetes जैसी बीमारियों को अपने पास बुलाने का एक निमंत्रण है।

निवेदन ;अगर आपको यह आर्टिक्ल पसंद आया हो तो कृपया इसे शेयर कीजिये! धन्यवाद!

{*New Link Added*} 2000+ WhatsApp Groups Links In Worldwide

All Types WhatsApp Groups Links In Worldwide: अगर आप व्हाट्सप्प पर किसी भी ग्रुप में ज्वाइन होना चाहते है तो नीचे लिंक उपलब्ध हैं बस चुनें कि आप कौन से श्रेणी के ग्रुप में ज्वाइन होना चाहते हैं और अगर आपको ग्रुप्स पसंद आये तो सभी को शेयर जरुर करे
Best Movie WhatsApp Group Links

Actor and Actress Fans Group Links In Hindi

Cricket Lovers WhatsApp Group Links In Hindi

Love and Friendship WhatsApp Group Links in Hindi

GK Study Materials WhatsApp Group Links

Hindi Shayari WhatsApp Groups Links In Hindi