Breaking News

6/breakingnews/random

Top 50+ Quotes of Mahatma Gandhi in Hindi (अनमोल विचार)

No comments
महात्मा गांधीजी के अनमोल विचार - भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महानायक और भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का जन्म गुजरात प्रान्त के पोरबंदर नामक स्थान में 2 अक्टूबर सन 1869 को हुआ था. इनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गाँधी था. इनके पिता का नाम करमचंद था जो राजकोट रियासत के दीवान थे और माता का नाम पुतलीबाई था.
बालक मोहन पर परिवार की धार्मिक आस्था व सादगी का गहरा प्रभाव पड़ा. सत्यनिष्ठा, अहिंसा, त्याग व मानव सेवा की झलक उनके जीवन के अनेक प्रसंगों में मिलती है. महात्मा गाँधी को लोग प्यार से ”बापू” कहते है. भारतीय स्वतंत्रता में योगदान के कारण महात्मा गाँधी ”राष्ट्रपिता” कहे जाते है. महात्मा गाँधी का जीवन आज हमारे लिए प्रेरणास्रोत है.

Quote 1: विश्वास करना एक गुण है, अविश्वास दुर्बलता कि जननी है।

Quote 1: विश्वास करना एक गुण है, अविश्वास दुर्बलता कि जननी है।

Quote 2: अपने प्रयोजन में द्रढ विश्वास रखने वाला एक सूक्ष्म शरीर इतिहास के रुख को बदल सकता है।


Quote 3: शांति का कोई रास्ता नहीं है, केवल शांति है।

Quote 4: आँख के बदले में आँख पूरे विश्व को अँधा बना देगी।

Quote 5: जो समय बचाते हैं, वे धन बचाते हैं और बचाया हुआ धन, कमाएं हुए धन के बराबर है।
Quote 6: केवल प्रसन्नता ही एकमात्र इत्र है, जिसे आप दुसरो पर छिड़के तो उसकी कुछ बुँदे अवश्य ही आप पर भी पड़ती है।

Quote 7: विश्वास को हमेशा तर्क से तौलना चाहिए. जब विश्वास अँधा हो जाता है तो मर जाता है।

Quote 8: पहले वो आप पर ध्यान नहीं देंगे, फिर वो आप पर हँसेंगे, फिर वो आप से लड़ेंगे, और तब आप जीत जायेंगे।

Quote 9: व्यक्ति की पहचान उसके कपड़ों से नहीं अपितु उसके चरित्र से आंकी जाती है।

Quote 10: ख़ुशी तब मिलेगी जब आप जो सोचते हैं, जो कहते हैं और जो करते हैं, सामंजस्य में हों।

Quote 11: मौन सबसे सशक्त भाषण है, धीरे-धीरे दुनिया आपको सुनेगी।
Quote 12: सत्य एक विशाल वृक्ष है, उसकी ज्यों-ज्यों सेवा की जाती है, त्यों-त्यों उसमे अनेक फल आते हुए नजर आते है, उनका अंत ही नहीं होता।

Quote 13: विश्व के सभी धर्म, भले ही और चीजों में अंतर रखते हों, लेकिन सभी इस बात पर एकमत हैं कि दुनिया में कुछ नहीं बस सत्य जीवित रहता है।

Quote 14: कोई त्रुटी तर्क-वितर्क करने से सत्य नहीं बन सकती और ना ही कोई सत्य इसलिए त्रुटी नहीं बन सकता है क्योंकि कोई उसे देख नहीं रहा।

Quote 15:  क्रोध और असहिष्णुता सही समझ के दुश्मन हैं।


Quote 16: पूंजी अपने-आप में बुरी नहीं है, उसके गलत उपयोग में ही बुराई है। किसी ना किसी रूप में पूंजी की आवश्यकता हमेशा रहेगी।

Quote 17: अपनी गलती को स्वीकारना झाड़ू लगाने के सामान है जो धरातल की सतह को चमकदार और साफ़ कर देती है।

Quote 18: निरंतर विकास जीवन का नियम है, और जो व्यक्ति खुद को सही दिखाने  के लिए हमेशा अपनी रूढ़िवादिता को बरकरार रखने की कोशिश करता है वो खुद को गलत स्थिति में पंहुचा देता है।

Quote 19: यद्यपि आप अल्पमत में हों, पर सच तो सच है।

Quote 20: जो भी चाहे अपनी अंतरात्मा की आवाज़ सुन सकता है। वह सबके भीतर है।
Quote 21: गर्व लक्ष्य को पाने के लिए किये  गए प्रयत्न में निहित है, ना कि उसे पाने में।

Quote 22: मैं मरने के लिए तैयार हूँ, पर ऐसी कोई वज़ह नहीं है जिसके लिए मैं मारने को तैयार हूँ।

Quote 23: मैं सभी की समानता में विश्वास रखता हूँ, सिवाय पत्रकारों और फोटोग्राफरों के।

Quote 24: सत्य बिना जन समर्थन के भी खड़ा रहता है, वह आत्मनिर्भर है।

Quote 25: सत्य कभी ऐसे कारण को क्षति नहीं पहुंचाता जो उचित हो।

Quote 26: मेरा धर्म सत्य और अहिंसा पर आधारित है। सत्य मेरा भगवान है, अहिंसा उसे पाने का साधन।

Quote 27: मेरा जीवन मेरा सन्देश है।

Quote 28: जहाँ प्रेम है वहां जीवन है।

Quote 29: ऐसे जियो जैसे कि तुम कल मरने वाले हो। ऐसे सीखो की तुम हमेशा के लिए जीने वाले हो।

Quote 30: जब मैं निराश होता हूँ, मैं याद कर लेता हूँ कि समस्त इतिहास के दौरान सत्य और प्रेम के मार्ग की ही हमेशा विजय होती है। कितने ही तानाशाह और हत्यारे हुए हैं, और कुछ समय के लिए वो अजेय लग सकते  हैं, लेकिन अंत में उनका पतन होता है। इसके बारे में सोचो- हमेशा।
Quote 31: एक कृत्य द्वारा किसी एक दिल को ख़ुशी देना, प्रार्थना में झुके हज़ार सिरों से बेहतर है।

Quote 32: भगवान का कोई धर्म नहीं है।

Quote 33:  मैं किसी को भी गंदे पाँव के साथ अपने मन से नहीं गुजरने दूंगा।

Quote 34: पाप से घृणा करो, पापी से प्रेम करो।

Quote 35: मेरी अनुमति के बिना कोई भी मुझे ठेस नहीं पहुंचा सकता।

Quote 36: प्रार्थना माँगना नहीं है। यह आत्मा की लालसा है।  यह हर रोज अपनी कमजोरियों की स्वीकारोक्ति है। प्रार्थना में बिना वचनों के मन लगाना, वचन होते हुए मन ना लगाने से बेहतर है।

Quote 37:  सात घनघोर पाप: काम के बिना धन;अंतरात्मा के बिना सुख;मानवता के बिना विज्ञान;चरित्र के बिना ज्ञान;सिद्धांत के बिना राजनीति;नैतिकता के बिना व्यापार ;त्याग के बिना पूजा।

Quote 38:  हंसी मन की गांठें बड़ी आसानी से खोल देती है।

Quote 39: कुरीति के अधीन होना कायरता है, उसका विरोध करना पुरुषार्थ है।

Quote 40: आप आज जो करते हैं उस पर भविष्य निर्भर करता है।
Quote 41: आदमी अक्सर वो बन जाता है जो वो होने में यकीन करता है। अगर मैं खुद से यह कहता रहूँ कि मैं फ़लां चीज नहीं कर सकता, तो यह संभव है कि मैं शायद सचमुच वो करने में असमर्थ हो जाऊं। इसके विपरीत, अगर मैं यह यकीन करूँ कि मैं ये कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे करने की क्षमता पा लूँगा, भले ही शुरू में मेरे पास वो क्षमता ना रही हो।

Quote 42: चलिए सुबह का पहला काम ये करें कि इस दिन के लिए संकल्प करें कि- मैं दुनिया में किसी से डरूंगा। नहीं.-मैं केवल भगवान से डरूं। मैं किसी के प्रति बुरा भाव ना रखूं। मैं किसी के अन्याय के समक्ष झुकूं नहीं। मैं असत्य को सत्य से जीतुं। और असत्य का विरोध करते हुए, मैं सभी कष्टों को सह सकूँ।

Quote 43: आप मानवता में विश्वास मत खोइए। मानवता सागर की तरह है; अगर सागर की कुछ बूँदें गन्दी हैं, तो सागर गन्दा नहीं हो जाता।

Quote 44: एक देश की महानता और नैतिक प्रगति को इस बात से आँका जा सकता है कि वहां जानवरों से कैसे व्यवहार किया जाता है।

Quote 45: स्वयं को जानने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है स्वयं को औरों की सेवा में डुबो देना।
Quote 46: आप तब तक यह नहीं समझ पाते की आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है जब तक आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देते।

Quote 47: मृत, अनाथ, और बेघर को इससे क्या फर्क पड़ता है कि यह तबाही सर्वाधिकार या फिर स्वतंत्रता या लोकतंत्र के पवित्र नाम पर लायी जाती है?

Quote 48: किसी चीज में यकीन करना और उसे ना जीना बेईमानी है।

Quote 49:  प्रेम दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति है और फिर भी हम जिसकी कल्पना कर सकते हैं उसमे सबसे नम्र है।

Quote 50: पृथ्वी सभी मनुष्यों की ज़रुरत पूरी करने के लिए पर्याप्त संसाधन प्रदान करती है, लेकिन लालच पूरी करने के लिए नहीं।

No comments

Post a Comment

Internet

5/cate3/Internet

Contact Form

Name

Email *

Message *