#Breakup Day Special:-Best Breakup And Sad Shayri In Hindi

''मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा,
हमें तो कश्ती ने नहीं किनारों ने लूटा,
आप तो डर गए हमारी एक ही अदा से,
हमें आपकी कसम देकर हजारों ने लूटा।''
Best Breakup And Sad Shayri In Hindi
''मोहब्बत मैं कुछ ऐसा कर जाना ही बनता है 
मैं जिन्दाहूँ मगर मेरा मर जाना बनता है''

''ज़िंदा रहे तो क्या है जो मर जाएं हम तो क्या,
दुनिया से खामोशी से गुजर जाएं हम तो क्या,
हस्ती ही अपनी क्या है इस ज़माने के सामने,
एक ख्वाब हैं जहान में बिखर जायें हम तो क्या।''

''वो लोग जो तुमको कभी कभी याद आते है 
कभी हमको भी इन में शामिल करना''

''तेरा ख्याल सही है के वो खूबसूरत है 
मुझे हसीं यार से नहीं अपने जान से मोहब्बत है''

''अब आयें या न आयें इधर… पूछते चलो,
क्या चाहती है उनकी नजर पूछते चलो,
हमसे अगर है तर्क-ए-ताल्लुक तो क्या हुआ,
यारो कोई तो उनकी खबर पूछते चलो।''

''मैं खुद को तुझ से मिटा लुँगा बडी ऐहतिहात के साथ 
तो बस निशाँ लगा दे जहाँ जहाँ मैं बसा हुआ हुवा हूँ''

''खोकर हमें फिर पा न सकोगे,
जहाँ हम होंगे वह आ न सकोगे,
हरपल हमें महसूस तो करोगे लेकिन
पर हम होंगे वहां जहाँ से
हमें फिर बुला न सकोगे.''
Best Breakup And Sad Shayri In Hindi
''100 बार तलाश क्या खुद को खुद मैं 
एक तेरे सिवा कुछ नहीं मिला मुझ को मुझ मैं''

''जवानी में जनाजा उठने का मजा ही कुछ और है 
इनके भी आसूं आ जाते है जिनको हमारा जीना अच्छा नहीं लगता''

''कुछ रिश्तों को कभी भी नाम ना देना तुम,
इन्हें चलने दो ऐसे ही इल्जाम ना देना तुम,
ऐसे ही रहने दो तुम तिश्नग़ी हर लफ़्ज़ में,
कि अल्फ़ाज़ों को मेरे अंज़ाम ना देना तुम।''

''कहा वफा मिलती है इन हसीं इंसानो मैं 
ये लोग बिगैर मतलब के तू खुदा को भी याद नहीं करते''

''देखो लौट आयी ही फिर से बारिश यहाँ 
बस 1 तुम हो जो अभी तक आने की फुर्सत नहीं तुमको''

''तू नहीं तो ये नज़ारा भी बुरा लगता है..
चाँद के पास सितारा भी बुरा लगता है..
ला के जिस रोज़ से छोड़ा है तुने भवँर में मुझको..
मुझको दरिया का किनारा भी बुरा लगता है.''

''उपर वाला भी अपना आशिक है
इसिलीऐ तो किसिका होने नहि देता''

''मीठी रातो में धीरे से आ जाती है एक परी
कुछ खुसी के सपने लाती एक परी''

''इस दिल को किसी की आहट की आस रहती है,
निगाह को किसी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना जिन्दगी में कोई कमी तो नही,
फिर भी तेरे बिना जिन्दगी उदास रहती है॥''

''कहती है कि सपनो के सागर में डूब जाओ
भूल के सारे दर्द जल्दी से सो जाओ''

''बिछड के मोहब्बत के फसाने याद रहते है 
उजड जाती है महफिल मगर चेहरे याद रहते है''

''खोकर हमें फिर पा न सकोगे,
जहाँ हम होंगे वह आ न सकोगे,
हरपल हमें महसूस तो करोगे लेकिन
पर हम होंगे वहां जहाँ से
हमें फिर बुला न सकोगे''

''कभी यादें कभी आँखों में पानी भेज देता है,
वो खुद आता नहीं अपनी निशानी भेज देता है।''

''इस दौर में अहसास-ए-वफ़ा ढूँढने वालो,
सेहरा में कहाँ मिलते हैं दीवार के साए''।

''अब आयें या न आयें इधर… पूछते चलो,
क्या चाहती है उनकी नजर पूछते चलो,
हमसे अगर है तर्क-ए-ताल्लुक तो क्या हुआ,
यारो कोई तो उनकी खबर पूछते चलो।''

0/Post a Comment/Comments

Sponsor