Monday, 25 February 2019

इन घरेलु नुस्खो से जल्द होंगे फोड़े-फुंसी दूर |Top Home Remedies For Skin Boils In Hindi

फोड़े त्वचा की समस्या है जो बैक्टीरिया के गहरे संक्रमण के बाद फोड़े का रूप ले लेते है। फोड़ों के होने का प्रमुख कारण बालों की जड़ों और तेल की ग्रंथियों में संक्रमण है। चेहरे के फोड़े भद्दे होते है और आपके चेहरे पर निशान या दाग छोड़ते हैं। फोड़े छोटे मटर के आकार के और सफेद या पीले या दोनों के मिश्रण रंग के होते हैं। यह आपके चेहरे, मुंह के अंदर, पीठ, नितम्ब आदि पर हो सकते है। इन फोड़ो को न तो दबाये और न ही निचोड़े अन्यथा यह त्वचा का संक्रमण दे सकते हैं। साथ ही इनमें दर्द भी होता है। जैसे चेहरे, मुंह के अंदर, पीठ, नितम्ब आदि पर हो सकता है। इन फोड़ो का प्राकृतिक उपायों से बेहतर इलाज होता है। आइए ऐसी ही कुछ प्रभावी घरेलू उपायों की जानकारी लेते हैं।
Top Home Remedies For Skin Boils In Hindi
फोड़ो का प्राकृतिक उपाय हल्दी
हल्‍दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों का बहुत अच्‍छा स्रोत है और यह प्रभावी ढ़ग से रक्‍त को शुद्ध करता है। फोड़ो के प्राकृतिक उपाय के लिये आप एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच हल्दी को अच्छे से मिलाकर दिन में दो या तीन बार पियें। या हल्दी में गुलाब जल मिलाकर इसका पेस्‍ट बना लें फिर इसे त्‍वचा पर होने वाले फोड़ों पर लगायें।

एंटीबैक्टीरियल गुणों वाला नीम
नीम में एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं। यह फोड़े को आपकी त्वचा से पूरी तरह बिना किसी दुष्प्रभाव के हटाता है। मुट्ठी भर नीम की पत्तियों को लेकर उसको पीसकर लेप बना लें। इसे प्रभावित क्षेत्र के ऊपर लगा लें। या तुरंत लाभ पाने के लिए आप नीम की थोड़ी सी पत्तियों को पानी में उबालें। जब पानी एक तिहाई बच जाये तो फोड़े को दिन में कई बार इस पानी से धोयें।

अजवायन की पत्तियां
अजवायन की पत्तियां लगभग हर घर में आसानी से उपलब्‍ध हो जाती है। पानी में अजवाइन की थोड़े से पत्‍ते डालकर उबाल लें। गर्म करने के बाद पतले कपड़े में पत्तियों को लपेट लें। अजवायन की पत्तियों को फोड़े पर लगाकर कपड़े से कवर कर लें। यह फोड़े को बिना किसी संक्रमण के फूटने में सहायता करता है।

एंटीसेप्टिक के रूप में काम करें प्याज
तीखी गंध वाले प्‍याज में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं। जो त्‍वचा की किसी भी प्रकार की समस्‍याओं के लिए एक एंटीसेप्टिक के रूप में काम करता है। प्याज को लेकर दो टुकड़े करें। एक टुकड़े को लें और इसे अपने फोड़े पर लगा लें और गीले कपड़े से कवर कर दें। प्याज में सल्फर होता है जो गर्मी पैदा करता है और फोड़ों का इलाज करता है।

संक्रमण के कारणों को मारें टी ट्री ऑयल
यह फोड़े के इलाज के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपाय है। आप इसका इस्‍तेमाल विभिन्‍न त्‍वचा की समस्‍याओं के लिए कर सकते हैं। चाय के पेड़ के तेल में कवक विरोधी और बैक्टीरिया विरोधी तत्व फोड़े के संक्रमण के कारणों को मारता है। और फोड़ों को जल्दी ठीक करता है। इस चाय पेड़ के तेल को प्रतिदिन दिन में तीन से चार बार लगायें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई हेतो इस पोस्ट को अपने मित्रो के साथ शेयर जरुर करे और कमेंट में अपना सवाल और सुजाव जरुर दे! और हमारे साथ इसी तरह बने रहे यहाँ आपको अन्य कई तरह की जानकारी प्राप्त होगी!
आपका अमूल्य समय देने के किये धन्यवाद्!

Post a Comment

The World's Best Tips are Just for You !

...
Let's Read These Tips...

Whatsapp Button works on Mobile Device only