Monday, 15 April 2019

पीठ दर्द को दूर करने के उपचार | Pith Dard Ka Ilaj In Hindi

पीठ दर्द सबसे आम स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है जो लगभग सभी उम्र के लोगों को प्रभावित करता है। लेकिन यह 40-60 साल से अधिक उम्र के लोगों और वृद्ध व्यक्तियों में ये समस्‍या बहुत ही आम है। 80% आबादी को अपने जीवनकाल में किसी भी समय पीठ दर्द का अनुभव जरूर होता है, जिससे दिन-प्रति-दिन की गतिविधियों और कार्य समय में कमी आती है।
 Pith Dard Ka Ilaj In Hindi
1.पीठ दर्द का कारण ( Peeth Dard Ka Gharelu Upay )
पीठ का दर्द अक्‍सर सीधे न बैठना या चलना, जोड़ों का घिस जाना, किसी प्रकार की चोट लगने के कारण, अधिक बोझ पीठ पर लादकर चलने से, रीढ़ की हड्डी का खिसक जाना, मोटापा, कमर में मोच आ जाना, खेलकूद या यात्रा करते समय बार-बार झटके लगना, बहुत अधिक मानसिक दबाव, तनाव, चिन्ता और थकावट आदि कारणों से पीठ की पेशियों में खिंचाव हो जाता है, जो कि पीठ दर्द का कारण बनता है। इसके अलावा व्यायाम की कमी के कारण ठीक ढंग से न सोना, फोम के गद्दे पर सोना व घंटों एक ही जगह बैठे रहना और संतुलित भोजन के अभाव में ऐसी समस्‍याएं अक्‍सर देखने को मिलती है।

2.तुलसी का प्रयोग ( Kamar Dard Ka Ilaj Baba Ramdev In Hindi )
पवित्र तुलसी न केवल आपके स्वास्थ्य के लिए एक अद्भुत जड़ी बूटी है, बल्कि जब आप पीठ दर्द से पीड़ित होते हैं तो यह आपके बचाव में भी आ सकता है। 8 से 10 तुलसी के पत्तों को एक कप पानी में उबालें। ये पानी जब तक आधा न हो जाए तब तक उबालें। इसे कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें, फिर एक चुटकी नमक डालें। हल्के दर्द के लिए, रोजाना एक बार इस मिश्रण को पीएं। गंभीर दर्द के लिए, इसे रोजाना दो बार पीएं।

3.मालिश करें ( Haddi Ka Dard Ka Ilaj In Hindi )
रोज सुबह सरसों या नारियल के तेल में लहसुन की तीन-चार कलियॉ डालकर (जब तक लहसुन की कलियां काली न हो जायें) गर्म कर लें। ठंडा होने पर इस तेल से कमर की मालिश करें। इससे कमर का दर्द ठीक हो जाएगा। यह सूजन भी कम करता है।

4.लहसुन का पेस्‍ट ( Peeth Ka Dard Ka Upay )
लहसुन एक और घटक है जो पीठ दर्द का इलाज करने में मदद कर सकता है। बस खाली पेट पर हर सुबह लहसुन के दो से तीन लौंग खाते हैं। आप लहसुन के तेल के साथ अपनी पीठ मालिश भी कर सकते हैं। प्रभावित क्षेत्र पर थोड़ा सा अदरक पेस्ट लगाएं। इसे 15 मिनट तक छोड़ दें, फिर इसे निकाल दें। इसे रोजाना कुछ दिनों के लिए करें। दर्द ठीक हो जाएगा।

5.पोटली से सेंकाई करें ( Reedh Ki Haddi Me Dard In Hindi )
कढ़ाई में दो-तीन चम्मच नमक डालकर इसे अच्छे से सेक लें। इस नमक को थोड़े मोटे सूती कपड़े में बांधकर पोटली बना लें। कमर पर इस पोटली से सेक करने से भी दर्द से आराम मिलता है।

6.बर्फ लगाएं ( Peeth Ke Upari Hisse Me Dard Ka Ilaj In Hindi )
बर्फ लगाने से मासपेशियो में हो रही सूजन कम हो जाती है । पर अगर दर्द बहुत ही गंभीर है और जहाँ पर बर्फ से कोई आराम नहीं मिल रहा है तो अपनी काफ मासपेशियो के ऊपर गर्म आपनी से मालिश करे या गर्म पैड लगाए । गर्म पैडो को दर्द होने के 24 घंटे तक नहीं लगाना चाहिए ताकि सूजन से बचा जा सके।

7.कैमोमाइल चाय ( Ayurveda For Back Pain in Hindi )
एक कप गर्म कैमोमाइल चाय बैक पेन और सूजन को कम करने के लिए अच्‍छा सुझाव है। यह परेशान मांसपेशी ऊतकों को आराम करने में मदद कर सकता है जो पीठ दर्द का कारण या संबंधित लक्षण हो सकता है। आप पैक्‍ड कैमोमाइल चाय खरीद सकते हैं या अपना खुद का बना सकते हैं।

पीठ दर्द से कैसे बचें
1.हमेशा सीधे बैठने व सीधे चलने की कोशिश करें।
2.दर्द होने पर व्यावयाम ना करें।
3.अधिक समय तक या लगातार कुर्सी पर ना बैठें और ब्रेक लेते रहें।
4.विटामिन डी, सी कैल्शीयम और फास्फोंरस से भरपूर आहार लें।
5.प्रतिदिन व्यायाम का नियम बना लें।
6.पीठ दर्द से बचने के लिए आप यह उपाय अपना सकते हैं, लेकिन तेज़ दर्द होने पर चिकित्सक से संपर्क ज़रूर करें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी यह जानकारी पसंद आई हेतो इस पोस्ट को अपने मित्रो के साथ शेयर जरुर करे और कमेंट में अपना सवाल और सुजाव जरुर दे! और हमारे साथ इसी तरह बने रहे यहाँ आपको अन्य कई तरह की जानकारी प्राप्त होगी!
आपका अमूल्य समय देने के किये धन्यवाद्!

Post a Comment

The World's Best Tips are Just for You !

...
Let's Read These Tips...

Whatsapp Button works on Mobile Device only